fbpx Press "Enter" to skip to content

हैप्पीनेस कार्यक्रम को देखकर अभिभूत हुई मेलानिया ट्रंप

नयी दिल्लीः हैप्पीनेस कार्यक्रम भी अमेरिकी राष्ट्रपति के दौरे से अलग एक चर्चा का

विषय रहा। भारत के दौरे पर आईं अमेरिका की प्रथम महिला मेलानिया ट्रंप मंगलवार को

नानकपुरा और आर के पुरम स्थित सर्वोदय सहशिक्षा उच्चतर माध्यमिक विद्यालय

पहुंची और वहां बच्चों के साथ बातचीत की तथा कुछ समय बिताया। दक्षिण दिल्ली के

मोती बाग स्थित दिल्ली सरकार के सर्वोदय सह शिक्षा उच्चतम माध्यमिक स्कूल की

‘हैप्पीनेस’ क्लास पहुंचने पर श्रीमती मेलानिया का बच्चों और शिक्षकों ने भारतीय परंपरा

के अनुसार तिलक लगाकर अगवानी और गले में माला पहनाई। वह करीब एक घंटे तक

स्कूल में रहीं और बच्चों के साथ खूब घुल-मिलकर बातचीत की और स्कूल को लेकर

प्रसन्नता जाहिर की। स्कूल में बच्चों की अगवानी से अभिभूत श्रीमती ट्रंप ने शानदार

स्वागत और सांस्कृतिक कार्यक्रमों के लिए आयोजकों का धन्यवाद दिया। बच्चों ने

श्रीमती मेलानिया को मधुबनी की पेंटिंग उपहार में दी। उन्होंने कहा, ‘‘नमस्ते!

सांस्कृतिक नृत्य के साथ इस शानदार स्वागत के लिए शुक्रिया। हैप्पीनेस शब्द प्रेरणा देने

वाला है। पूरी दुनिया में ऐसे कार्यक्रम होने चाहिए। अमेरिका में इसी तरह के काम कर रहे

हैं। उन्होंने कहा,‘‘ विद्यालय को खूबसूरत और भारत को एक शानदार देश बताया और

कहा यहां आकर मुझे अत्यंत प्रसन्नता हुई है। यह भारत में मेरा पहला दौरा है। यहां के

लोग बहुत अच्छे हैं और अतिथियों का बेहद आदर सत्कार करते हैं।’’

विद्यालय में पढ़ाई और पाठ्यक्रम से अभीभूत श्रीमती ट्रंप ने कहा यह शिक्षा के लिए ‘

स्वस्थ और सकारात्मक’ सोच का उदाहरण है। स्कूल को फूलों से खूब सजाया गया था

और श्रीमती ट्रंप के स्वागत के लिए जगह-जगह रंगोली बनाई गई थी। उन्होंने स्कूल और

अध्ययन कक्ष का दौरा और योगा सत्र का भी आनंद लिया।

हैप्पीनेस कार्यक्रम में राष्ट्रपति से अलग थी मेलानिया ट्रंप

श्रीमती ट्रंप अपने पति राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के साथ भारत आई हैं। श्री ट्रंप दो दिन के दौरे

पर 24 फरवरी को भारत पहुंचे। सोमवार को गुजरात के अहमदाबाद में साबरमती आश्रम

का भ्रमण और मोटेरा स्टेडियम के उद्घाटन समारोह में शामिल होने के बाद श्री ट्रंप पत्नी

सहित ताजमहल का दीदार करने के बाद शाम को दिल्ली लौट आए थे। आज उनका

राष्ट्रपति भवन में आधिकारिक तौर पर स्वागत किया गया। इसके बाद वह राजघाट

स्थित गांधी समाधि गए इस दौरान श्रीमती मेलानिया भी उनके साथ थी। दिल्ली सरकार

ने पहली से आठवीं तक के छात्रों के लिए हैप्पीनेस कक्षाओं की शुरुआत पिछले साल शुरु

की थी। इस कार्यक्रम के तहत छात्र सवाल-जवाब, कहानी सुनाना और मेडिटेशन आदि

करते हैं जिससे की बच्चों में अनावश्यक तनाव को कम करने में मदद मिले

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

2 Comments

Leave a Reply

error: Content is protected !!