fbpx Press "Enter" to skip to content

दुकानों के आधी शटर खोल खूब हो रही खरीद बिक्री, सोशल डिस्टेंसिंग का भी हो रहा उल्लंघन

  • कोरोना संक्रमण को आमंत्रित कर रहे हैै ग्रामीण
  • बाजार में लगातार उमड़ रही है भीड़

बेड़ो : दुकानों के आधी शटर खोल खरीद-बिक्री का मामला प्रकाश में आया है, जो बेड़ो

सहित कई क्षेत्रों में लोग अपना रहे है। फिलहाल बेड़ो की बात करे तो कोरोना पॉजिटिव के

पांच मामलों के बाद भी लोग लॉकडाउन को हल्के में ले रहे हैं और सोशल डिस्टेंसिंग को तो

मान भी नहीं रहे हैं। बेड़ो प्रखंड के मुख्य बाजार समेत अन्य इलाकों में ग्रामीण खुलेआम

सोशल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन कर मानो कोरोना संक्रमण को आमंत्रित कर रहे हैैं। बेडो में

लगने वाला सब्जी बाजार बेडो सब्जी मंडी में खरीदारों को सब्जी खरीदने और सब्जी

विक्रेताओं को सब्जी बेच पैसे कमाने की लालच में कोरोना संक्रमण का डर दिखाई ही नहीं

दे रहा है। सोशल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन लगातार बेडो बाजार में हो रहा है। जाने अनजाने

हमारी यह लापरवाही कोरोना संक्रमण को हमारे दरवाजे पर खड़ी कर कर सकती है।

दुकानों को चुपके से खोल प्रशासन की आंखों में झोंक रहें धूल

पूर्व में स्थानीय प्रशासन व छोटानागपुर सांस्कृतिक संघ तथा जनप्रतिनिधियों और बेड़ो

के समाजसेवियों की ओर से पहल कर बेड़ो बाजार में सोमवार को जागरूकता अभियान

चलाई गई थी। दो ड्राप गेट लगाए गए थे। लेकिन महज दो दिन बाद सोमवार के बाद

गुरुवार को बाजार की स्थिति देख लग रहा था कि किसी को कोरोना से कोई डर नहीं है।

साथ ही बेड़ो के कई दुकानदार द्वारा लगातार प्रशासन की आंखों में धूल झोंककर प्रत्येक

दिन अहले सुबह 6:00 बजे से दोपहर के 10:00 से 11:00 बजे तक दुकान की आधी शटर

खोल कर खरीद बिक्री की जा रही है जो पूरे क्षेत्र के लिए घातक सिद्ध हो सकती है। प्रशासन

अपनी ओर से लॉकडाउन के अनुपालन कराने को लेकर गांव गांव घूम कर हर तरह से

प्रयास कर रही है पर ग्रामीण हैं कि इसे मानने को तैयार नहीं है। आखिर हम कब जागेंगे।

क्या प्रशासन के भरोसे लॉक डाउन और सोशल डिस्टेंसिंग संभव है? जवाब मिलेगा

बिल्कुल नहीं। हमें खुद ही जागरूक होना होगा। प्रशासन हमारी मदद कर सकता है लेकिन

हर जगह हमारी प्रत्येक लापरवाही पर नजर नहीं रख सकता, जिसका घाटा सभी को है।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from अपराधMore posts in अपराध »
More from झारखंडMore posts in झारखंड »
More from रांचीMore posts in रांची »

2 Comments

Leave a Reply

error: Content is protected !!