Press "Enter" to skip to content

सरकार ने हांगकांग के प्रदर्शनकारियों की बर्बरतापूर्ण कृत्य की कड़ी निंदा की




हांगकांगः सरकार ने हांगकांग के घटनाओं पर तीखी प्रतिक्रिया जाहिर की है।

हांगकांग स्पेशल एडमिनिस्ट्रेटिव रीजन (एचकेएसएआर) सरकार ने

प्रिंस एडवर्ड, मोंग कोक ओर याउ मा ती के इर्दगिर्द इलाके में शुक्रवार को

कट्टरपंथी प्रदर्शनकारियों की बर्बरतापूर्ण कृत्यों की कड़ी निंदा की है।

एचकेएसएआर सरकार के प्रवक्ता ने शनिवार सुबह जारी एक बयान में कहा,

‘‘हांगकांग पुलिस जनता की सुरक्षा और अधिकारों की रक्षा के लिए ‘दृढ़ संकल्प कार्रवाई’ करेगी।’’

प्रवक्ता ने बताया कि प्रदर्शनकारी शुक्रवार अपराह्न तीन स्थानों पर एकत्रित हुए

और कानून व्यवस्था की अवहेलना करते हुए पुलिस थाने, सार्वजनिक संपत्तियों में तोड़फोड की

तथा मास ट्रांजिट रेलवे स्टेशनों और विभिन्न स्थानों पर बड़े पैमाने पर आगजनी की।

प्रवक्ता ने प्रदर्शनकारियों के व्यवहार को अपमानजनक बताया और कहा कि प्रदर्शनकारियों के

इस कृत्य से सार्वजनिक स्थानों पर शांति भंग और सार्वजनिक सेवाएं प्रभावित हुई।

उन्होंने कहा प्रदर्शनकारियों का व्यस्त इलाकों में आग लगाकर लोगों की सुरक्षा को खतरे में डालने का खतरनाक काम किया है।

चीनी सरकार के फैसलों की वजह से वहां का माहौल बिगड़ गया है।

प्रदर्शनकारियों की मांग पर बैठक करने पर सरकार ने सहमति जतायी है।

इसके बाद भी स्थानीय नागरिकों का बहुमत यही मान रहा है कि दरअसल

चीन की सरकार यहां की परिस्थितियों पर अपना नियंत्रण करना चाहती है।

इसी वजह से चीनी मूल की महिलाएं अब हांगकांग में आकर अपने बच्चों को जन्म दे रही हैं।

यहां के जन्म की वजह से ऐसे बच्चों को यहां की नागरिकता प्राप्त होती है।

सरकार ने प्रदर्शनकारियों को फिर से चेतावनी दी है

इसकी मदद से भी चीन अपने फैसलों को लागू कराने के लिए आबादी के संतुलन को बिगाड़ने की कोशिश कर रहा है।

इस मुद्दे पर अक्सर ही वहां प्रदर्शन के दौरान अब हिंसक झड़पें होने लगी हैं।

इसके पूर्व हिंसक प्रदर्शन की वजह से हांगकांग के अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे पर भी हंगामा हुआ है।

उस हंगामे के बाद अनेक अंतर्राष्ट्रीय विमान सेवाओं ने अपनी उड़ाने स्थगित कर दी थी।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •   
  •  
  •  
More from Hindi NewsMore posts in Hindi News »

Be First to Comment

Leave a Reply