fbpx Press "Enter" to skip to content

बिहार में डबल इंजन नहीं ट्रबल इंजन की सरकार : तेजस्वी यादव

राष्ट्रीय खबर

पटना : बिहार में डबल इंजन नहीं ट्रबल इंजन की सरकार है। प्रतिपक्ष के नेता तेजस्वी

यादव स्वास्थ्य सुविधाओं को लेकर शुक्रवार को फिर एकबार नीतीश सरकार को घेरा।

तेजस्वी ने कहा कि बीजेपी-जेडीयू एक सोची समझी तुच्छ नीति के तहत अपनी फिक्स्ड

और फ्राइंडली ‘छींटाकशी’ से ज्वलंत मुद्दों व सरकार की नाकामी से ध्यान भटकाने के लिए

मुख्यमंत्री के इशारे पर नौटंकी कर रहे है। इन बेशर्म नेताओं को बेड, डॉक्टर,

स्वास्थ्यकर्मियों, ऑक्सीजन, वैक्सीन, दवा, वेंटिलेटर व ईलाज की कमी से मर रहे लाखों

लोगों की कोई परवाह नहीं है। तेजस्वी ने कहा कि संक्रमण व मृत्यु के आँकड़ों को 20-30

गुणा कम करके और आपसी नूराकुश्ती से लोगों का ध्यान भटकाकर बीजेपी- जेडीयू वाले

समझते हैं कि लोगों को इनकी कामचोरी और धूर्तता के कारण रोज हो रही हज़ारों मौतों के

बारे में पता नहीं चलेगा। इस निकम्मी नीतीश सरकार के पास ना दिल है, ना दिमाग, ना

लगन और ना ही संवेदना। उन्होंने कहा कि बिहार के लोग आज अस्पतालों में मूलभूत

स्वास्थ्य सुविधाओं की कमी से अपने प्राण त्याग रहे है। लेकिन ये कुर्सीवादी लालची लोग

अपनी निम्नस्तरीय अमानवीय राजनीति के चलते मरते लोगों की चिंता छोड़

प्रदेशवासियों का ध्यान हटाने के लिए हेडलाइन मैनेज करने में लगे हैं।

बिहार में डबल इंजन की सरकार का लाभ क्या मिला

पूर्व उपमुख्यमंत्री ने कहा कि मैंने 2019 लोकसभा चुनाव में ही कहा था यह डबल इंजन

नहीं ट्रबल इंजन है। बिहारवासियों को इस कथित डबल इंजन का क्या फ़ायदा मिला? इस

डबल इंजन ट्रबल ट्रेन में सवार एनडीए के 48 सांसदों, 5 केंद्रीय मंत्रियों, मुख्यमंत्री, दो-दो

उपमुख्यमंत्रियों में से किसी माई के लाल में है दम जो बता सके इस महामारी के वक्त

बिहार को सबसे कम मदद क्यों मिल रही है? क्या ये अंधे, गूँगे-बहरे नकारे लोग

बिहारवासियों की जान लेने के लिए चुने गए है? इनमें से किसी में हिम्मत नहीं जो

मूलभूत स्वास्थ्य सेवाओं की उपलब्धता सुनिश्चित करा सके?

भाजपा और जदयू खेल रहे हैं नूरा कुश्ती – तेजस्वी

नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी प्रसाद यादव ने आज मुख्यमंत्री और सत्तारूढ़ गठबंधन पर सीधा

आरोप लगाया है कि वह संक्रमण से हो रही मौतों और सरकारी विफलता से लोगों का

ध्यान हटाने के लिए आपस में नूरा कुश्ती खेल रहे हैं। भाजपा के नेता जदयू के ऊपर और

जदयू के नेता भाजपा के ऊपर आरोप-प्रत्यारोप लगा रहे हैं ताकि लोगों का ध्यान भटका

रहे। ज्वलंत मुद्दों व सरकार की नाकामी से ध्यान भटकाने के लिए मुख्यमंत्री के इशारे पर

नौटंकी कर रहे है। इन बेशर्म नेताओं को बेड, डॉक्टर, स्वास्थ्यकर्मियों, ऑक्सीजन,

वैक्सीन, दवा, वेंटिलेटर व ईलाज की कमी से मर रहे लाखों लोगों की कोई परवाह नहीं है।

संक्रमण व मृत्यु के आँकड़ों को 20-30 गुणा कम करके और आपसी नूराकुश्ती से लोगों का

ध्यान भटकाकर वाले समझते हैं कि लोगों को इनकी कामचोरी और धूर्तता के कारण रोज

हो रही हज़ारों मौतों के बारे में पता नहीं चलेगा। इस निकम्मी नीतीश सरकार के पास ना

दिल है, ना दिमाग, ना लगन और ना ही संवेदना।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from नेताMore posts in नेता »
More from बिहारMore posts in बिहार »

Be First to Comment

... ... ...
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: