fbpx Press "Enter" to skip to content

घाघरा की पुलिस ने जेजेएमपी के तीन उग्रवादियों को जेल भेजा




घाघरा: घाघरा की पुलिस ने घाघरा थाना क्षेत्र में आतंक का पर्याय बने तीन जेजेएमपी के उग्रवादियों को पकड़ कर गुमला जेल भेज दिया है।

इस दौरान जिले के पुलिस अनुमंडल पदाधिकारी नागेश्वर कुमार सिंह थाना प्रभारी उपेंद्र महतो ने

सामूहिक रूप से प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया कि

घाघरा के हाईस्कूल मैदान में पिछले दिनों हुए कांड संख्या 69/19 बसंत बस के ड्राइवर

व खलासी के साथ मारपीट व गोलीकांड में दो लोगों आनंद उरांव एक बगीचा घाघरा व राहुल कुमार राम

मंटू खान उर्फ शेरू खान को पुलिस अधीक्षक को मिली गुप्त जानकारी के अनुसार टीम बनाकर गिरफ्तार किया गया।

जिसके बाद उन लोगों से कड़ाई से पूछताछ करने के दौरान दोनों अपराधियों ने घटना में अपनी संलिप्तता स्वीकार करते हुए बताया कि घटना को उन दोनों के द्वारा अंजाम दिया गया है।

साथ ही साथ दोनों अपराधियों ने यह भी बताया कि घाघरा के पास पतागाई में पिछले वर्ष जुलाई महीना में दोहरा हत्याकांड में भी शामिल था।

वहीं मंटू खान आनंद के अलावे कई लोग घाघरा के पतागाई में हुए कांड संख्या 86 अट्ठारह दोहरा हत्याकांड के वारंटी फरार आरोपी थे।

गुप्त सूचना के आधार पर मंटू को भी जंगल के किनारे से गिरफ्तार किया गया।

इस दौरान एसडीपीओ नागेश्वर कुमार सिंह ने बताया कि यह तीनों उग्रवादी जेजेएमपी के सक्रिय हथियारबंद सदस्य है।

इनके द्वारा दर्जनों हत्या लूट व रंगदारी मांगने जैसे घटना को लगातार अंजाम दिया जा रहा था।

बसंत बस मैं लूटपाट के नियत से हमला किया गया और चालक उप चालक को हथियार से गोली चला कर घायल किया गया था।

पूरे घाघरा के लोग इनके आतंक से परेशान थे।

इन तीनों के गिरफ्तारी से इलाके में शांति व्यवस्था बहाल होगी।

व्यापारी वर्ग के लोग अपने आप में राहत महसूस करेंगे।

तीनों अपराधी बहुत ही घातक मानसिकता के हैं।

घाघरा की जनता इस गिरफ्तारी से चैन की सांस लेगी

तीनों अपराधियों ने अपना अपना जुर्म कबूल कर लिया है इसके बाद इन लोगों को जेल भेजा जा रहा है।

उन्होंने दोहरे हत्याकांड में अन्य और वारंटी फरार अपराधियों की गिरफ्तारी जल्द किए जाने की बात कहा है।

यहां बता दें कि घाघरा में 8 जुलाई 2018 को घाघरा केहान दूं महतो व गुमला के रवि सिंह का

दिन दहाड़े दर्जनों लोगों ने गला रेतकर हत्या कर दिया था

उन्हें लगातार इन अपराधियों के द्वारा घटना को अंजाम दिया जा रहा था।

वही घाघरा कि लोग अब इन अपराधियों की गिरफ्तारी से राहत की सांस ले रहे हैं।

छापेमारी दल में थाना प्रभारी उपेंद्र कुमार महतो एसआई सिद्धेश्वर सिंह हवलदार बेकारी सवैया

आरक्षी सागर हेमरोम आरक्षी सुरेश यादव शामिल थे।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from विधि व्यवस्थाMore posts in विधि व्यवस्था »