fbpx Press "Enter" to skip to content

गैंगस्टर फहीम खान की जमीन पर बना सरकारी अस्पताल

धनबादः गैंगस्टर फहीम खान एक चर्चित फिल्म की वजह से अधिक चर्चा में आ गये थे।

गैंग्स ऑफ वासेपुर की कहानी गैंगस्टर फहीम के ईर्दगिर्द पर ही आधारित थी। गैंगस्टर

फहीम खान मर्डर, रंगदारी और कई संगीन मामलों के लिए जाने जाते रहे हैं। कई संगीन

मामलों को लेकर वह पिछले कई सालों से जेल में भी बंद हैं। अब वासेपुर की अवाम बड़े ही

अदब से फहीम का नाम ले रही है। गैंगस्टर से हटकर फहीम खान की चर्चा अब नेक कार्यों

के लिए भी हो रही है। आजादी के बाद से वासेपुर में पहली बार अस्पताल का निर्माण किया

जा रहा है। जो अब करीब-करीब पूरा होने को है। इस अस्पताल का निर्माण के लिए जमीन

फहीम खान की पत्नी ने दान में दी है। यह फहीम का सपना भी रहा है कि वासेपुर की

अवाम के लिए कुछ अच्छा कर सकें। वासेपुर में जमीन के लिए एक नहीं बल्कि कई

हत्याएं हुई हैं, कितनों का खून बहा है। वासेपुर की जमीन की कीमत का सहज ही अंदाजा

लगाया जा सकता है। आज के समय जिस जमीन की कीमत करोड़ों में बताई जाती है। उस

जमीन को फहीम खान की पत्नी रिजवान परवीन ने अस्पताल निर्माण के लिए दान में दी

है। रिजवान कहती हैं कि मेरे पति का सपना था जो कि अब पूरा हो रहा है। वह चाहते हैं कि

वासेपुर के लिए हम कुछ अच्छा करें, जिससे लोगों का भला हो। उन्होंने बताया कि इलाज

के लिए लोगों को दूर जाना पड़ता था। अस्प्ताल शुरू होने से लोगों अपने पास में ही

स्वास्थ्य सुविधा मिल सकेगी। वासेपुर अवेर्नेस कमिटी के सदस्यों ने बताया कि साल

2017 में 45 लाख की लागत से स्वास्थ उप केंद्र निर्माण की योजना सरकार की ओर से

निर्गत की गई।

गैंगस्टर फहीम की पत्नी ने दान में दे दी करोड़ों की जमीन

काफी जद्दोजहद के बाद भी अस्पताल के निर्माण के लिए जमीन नहीं मिली। वासेपुर के

कुछ समाजसेवियों ने अस्पताल निर्माण कराने की ठान ली। फहीम के दामाद सानू को

समाज सेवियों ने अस्पताल निर्माण में आ रही जमीन की समस्या के बारे में जानकारी

दी। सानू ने सभी समाजसेवी की फहीम खान से जेल में मुलाकात कराई। अस्प्ताल

निर्माण में आ रही जमीन की समस्या को लेकर फहीम ने अपनी कीमती जमीन दान में

देने का संदेश पत्नी तक पहुंचवाया।

वासेपुर के लोग अब फहीम खान की इस दरियादिली से फूले नहीं समा रहे हैं। लोग बड़े

अदब से उनका नाम लेकर कहते नहीं थक रहे हैं कि फहीम खान ने बड़ा ही नेक काम

किया है। लोगों कहना है कि अस्पताल के शुरू होने से लोगों को काफी फायदा पहुंचेगा।

इलाज के लिए अब दूसरी जगह नहीं जाना पड़ेगा, घर के आसपास ही इलाज संभव हो

सकेगा। फहीम खान शफी खान का बेटा है। जो स्क्रैप का कारोबार करता है। उस पर

रंगदारी और हत्या के कई मामले दर्ज हैं। एक मामले में फहीम खान को आजीवन

कारावास की सजा हो चुकी है। रेलवे में ठेकेदारी पर उसका वर्चस्व रहा है। साल 1990 से

2000 तक इलाके में उसकी तूती बोलती थी। इन दिनों वह हजारीबाग के केंद्रीय कारा में

सजा काट रहा है।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from HomeMore posts in Home »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from धनबादMore posts in धनबाद »

Be First to Comment

... ... ...
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: