fbpx Press "Enter" to skip to content

ब्राजील के पूर्व स्टार खिलाड़ी रोनाल्डो ने कहा चोटों ने मुझे बेहतर इंसान बनाया


रियो डी जेनेरोः ब्राजील के पूर्व स्टार फुटबॉलर रोनाल्डो का कहना है कि उनके करियर में

लगी चोटों ने उन्हें एक बेहतर इंसान और फुटबॉलर बनाया है हालांकि इन चोटों से उनका

करियर समय से पहले ही समाप्त हो गया। दो बार के विश्वकप विजेता रहे रोनाल्डो को

एसी मिलान की तरफ से खेलते हुए पांच महीने के अंदर दो बार घुटने में गंभीर चोट लगी

थी। उनकी चोट इतनी गंभीर थी कि उन्हें इससे उबरने में दो साल का वक्त लग गया था

और उन्होंने 2002 विश्वकप में ब्राजील की राष्ट्रीय टीम में वापसी की थी जहां उन्होंने आठ

गोल किए थे और अपनी टीम को विजेता बनाने में अहम भूमिका अदा की थी। उन्होंने

योकोहामा में जर्मनी के खिलाफ फाइनल में दो गोल किये थे। रोनाल्डो ने अर्जेंटीना के पूर्व

मिडफील्डर जुआन सेबेस्टियन वेरोन के साथ गुरुवार को इंस्टाग्राम पर लाइव चैट के

दौरान कहा, ‘‘मैं चोटिल नहीं होने की पूरी कोशिश करता था लेकिन उसने मेरी जिंदगी

बदल दी। चोटों ने मुझे एक जिम्मेदार, अनुशासित और बेहतर इंसान बनने में मदद की।’’

गौरतलब है कि रोनाल्डो को फरवरी 2008 में एसी मिलान के लिए खेलते वक्त घुटने में

एक बार फिर काफी गंभीर चोट लग गयी थी जिसके कारण यूरोप में उनका करियर मात्र

31 साल में ही खत्म हो गया।

ब्राजील के पूर्व स्टार खिलाड़ी चार साल खेलने की उम्मीद रखते थे

43 वर्षीय खिलाड़ी ने कहा, ‘‘मैं चोटों के बिना और चार साल खेल सकता था। लेकिन

शायद यह चेतावनी थी। मैं बस शुक्रगुजार हूं। हालांकि मेरा करियर शानदार रहा। मैंने

बेहतरीन खिलाड़यिों के साथ खेला जिसमें से वेरोन आप भी एक हैं।’’ रोनाल्डो ने कहा कि

उन्होंने सितंबर 2018 में स्पेन के रियल वालाडोलिड टीम का मालिक बनने के बाद

फुटबॉल में वापसी की कोशिश की थी। रोनाल्डो ने कहा, ‘‘हालांकि यह सिर्फ महज एक

योजना था। मैंने बहुत कुछ सहन किया है लेकिन आज के युवा खिलाड़ी बहुत तेज हैं। जब

मैंने वालाडोलिड टीम खरीदी तो मैंने सोचा कि अगर मैं कुछ त्याग करुं और तीन चार

महीने तक ट्रेनिंग लूं तो मैं कुछ मैच खेल सकता हूं।’’


 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Be First to Comment

Leave a Reply

error: Content is protected !!
Open chat