ओएनजीसी कम्पनी द्वारा जमीन अधिग्रहण किए जाने पर आक्रोशित विस्थापितो ने किया बैठक

अधिकारियों ने गैस स्टॉक का फेक्ट्री बनाने व पाइपलाइन बिछाने को लेकर साड़म पूर्वी पंचायत
Spread the love
  • 1
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    1
    Share

ललपनिया : ओएनजीसी कम्पनी द्वारा जमीन अधिग्रहण किए जाने पर आक्रोशित विस्थापितो ने बैठक किया।

बता दें कि गोमिया प्रखंड अंतर्गत साड़म पूर्वी पंचायत के सैकड़ों रैयत विस्थापितों की जमीन को बिना पूछताछ किये

ओएनजीसी कम्पनी के द्वारा जमीन अधिग्रहण किए जाने पर आक्रोशित विस्थापितो ने

ओएनजीसी के खिलाफ पंचायत के इस्लाम टोला स्थित क्लब में बैठक किया।

इस अवसर पर बैठक में आजसू पार्टी के केंद्रीय महासचिव डॉ. लम्बोदर महतो शामिल हुए।

बैठक के दौरान रैयत विस्थापितो ने आजसू केंद्रीय महासचिव डर श्री महतो के समक्ष

अपनी-अपनी बातों को रखते हुए समस्या का समाधान करने की मांग की।

रैयत विस्थापितो ने बताया कि पुलिस प्रसाशन का धौस जमाकर ओएनजीसी कम्पनी के

अधिकारियों ने गैस स्टॉक का फेक्ट्री बनाने व पाइपलाइन बिछाने को लेकर साड़म पूर्वी पंचायत के

सैकड़ों विस्थापितो का सैकड़ों एकड़ जमीन को अधिग्रहण किया जा रहा है।

जब ओएनजीसी पदाधिकारियो से पूछताछ करने व जमीन के एवज में मुआवजा मांगने जाते है

तो सभी विस्थापितो को बरगलाया जाता है

और सही जानकारी नही दी जाती है। ज्यादा बोलने पर अपने कानून के अनुसार मुआवजा की भुगतान की जा रही है।

पाईपलाइन बिछाने को लेकर ओएनजीसी पदाधिकारियो ने मुआवजा देने के पहले रैयतों के खेतों में बड़े बड़े गढे कर दिया जा रहा है।

रैयतों के जमीन पर रैयतों को बिना जानकारी दिए खेतो को बर्बाद कर रहा है।

विरोध करने पर रैयतों को पुलिस-प्रशासन द्वारा फसाया जा रहा है वही धमकी भी दी जा रही है।

रैयत विस्थापितो की बाते सुनने के बाद आजसू केंद्रीय महासचिव डॉ लम्बोदर महतो ने विस्थापितो को

आस्वस्त किया कि मुआवजा दिए बिना रैयतों की जमीन का अधिग्रहण नही होने देंगे।

साथ ही किसी की सहमति के बिना जमीन नही लिया जा सकता। ओएनजीसी पदाधिकारियो से बात की है

और हमने कहा है कि भारत सरकार के कानून के तहत ही जमीन अधिग्रहण करने का काम करे।

अन्यथा बर्दास्त नही की जाएगी।

ओएनजीसी प्रबंधन को चेतावनी देते हुए कहा कि रैयतों को मुआवजा दिए बिना कार्य को न करे।

हर हाल में रैयतों को मुआवजा देना ही होगा।

मौके पर लाल मोहम्मद, असनुल इस्लाम, तोहिद अंसारी, मनिरुद्दीन, न्यामुदिन, दिपक रविदास,

गुलाब बारिश, इम्तियाज अंसारी, रिजवान अंसारी, सलीम अंसारी सहित सैकड़ों रैयत थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.