fbpx Press "Enter" to skip to content

वन विभाग ने बाघ की खाल के साथ दो को पकड़ा तस्करी की थी साजिश

  • 32 लाख में नेपाल में बेचने की थी योजना
  • गिरफ्तार तस्करों में एक भूटान सेना का पूर्व जवान

जलपाईगुड़ी( पश्चिम बंगाल ) : वन विभाग के बेलाकोबा रेंज के वन कर्मियों ने विशेष अभियान चलकर रॉयल बंगाल

टाइगर की खाल के साथ दो अंतर्राष्ट्रीय पशु तस्कर को गिरफ्तार किया है।दोनों तस्कर भूटान के नागरिक बताये जा रहे

हैं। जलपाईगुड़ी जिले के बेलाकोबा के रेंजर संजय दत्त ने बताया रॉयल बंगाल टाइगर की खाल की तस्करी की गुप्त

सुचना मिलने के बाद विशेष कल देर शाम अभियान चलाया गया। उन्होंने बताया तस्कर से बरामद रॉयल बंगाल

टाइगर की खाल लम्बाई करीब 14 फीट है।

उन्होंने कहा तस्करों के पास से रॉयल बंगाल टाइगर की खाल के साथ सौ से अधिक की संख्या में रॉयल बंगाल टाइगर

की हड्डी व शरीर के अन्य अंग बरामद किये गए है।

उन्होंने बताया प्राथिमक जाँच से पता चला है कि तस्कर पिछले एक महीने से रॉयल बंगाल टाइगर की खाल की

तस्करी के प्रयास में थे। ये सभी असम से आ रहे थे। उनके साथ तीन महिलाये भी हैं।

सभी भूटान के रहनेवाले हैं। असम से वे लोग भूटान के फुटशोलिंग पहुंचे।

वहां से कल वे लोग गाडी में सवार होकर रवाना हुए। रास्ते में हासीमारा के एक चौराहे पर वे सभी रुके थे।

वहीं इन सब को गिरफ्तार किया गया। यहाँ से वे लोग नेपाल के काठमांडू जाने वाले थे।

वनाधिकारी ने बताया काठमांडू में कुमार राय नमक एक व्यक्ति को रॉयल बंगाल टाइगर की खाल को

वे लोग 32 लाख रुपए में बेचने वाले थे।

गिरफ्तार व्यक्ति में एक का नाम लुम्बा बताया जा रहा है जो भूटान सेना का कर्मी रह चका है।

उन्होंने बताया की रॉयल बंगाल टाइगर की खाल को भूटान में मारे जाने की बात सामने आ रही है।

 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

3 Comments

Leave a Reply

error: Content is protected !!