fbpx Press "Enter" to skip to content

ट्रक के टायर के अंदर से 12 लाख का नकली नोट बरामद







प्रतिनिधि

मालदाः ट्रक के टायर के अंदर से जाली नोट का बरामद होना पुलिस को

भी चकरा गया है। इस इलाका में जाली नोट का कारोबार रुकने का नाम

नहीं ले रहा है। इस बार एक माल ढोने वाले ट्रक के टायरों के अंदर छिपाये

गये जाली नोट बरामद किये गये हैं। यह पुलिस और अन्य सुरक्षा एजेंसियों

के लिए बिल्कुल नई घटना है। गुरुवार की सुबह करीब पौने दस बजे मालदा

के अंग्रेजबाजार इलाके में अंतर्राष्ट्रीय चौकी पर यह जाली नोट बरामद

किया गया है। पांच सौ रुपये के सारे जाली नोट प्लास्टिक के अंदर

बड़ी कुशलता के साथ पैक किये गये थे।

यह कार्रवाई जब हुई तो वहांपर कोलकाता से आये एसटीएफ के अफसर

भी मौजूद थे। दरअसल इस अंतर्राष्ट्रीय चेकपोस्ट पर बांग्लादेश से हर

रोज करीब चार सौ ट्रकों का आना जाना होता है। बीएसएफ ने एसटीएफ

के साथ मिलकर वहां जांच का यह विशेष अभियान चला रखा था।

तस्करी के इस तरीके को देखकर बीएसएफ और एसटीएफ के अफसर

भी हैरान हो गये हैं। जाली नोट का कारोबार पकड़े जाने के बाद भी अब

तक ट्रक के टायरों के अंदर भरकर जाली नोट भेजने का कोई मामला

इससे पहले पकड़ में नहीं आया था।

ट्रक के टायर के अंदर से पहली बार ऐसी बरामदगी

इस ट्रक के चालक नूर आलम (48 वर्ष) को गिरफ्तार कर लिया गया है।

वह इसी क्षेत्र के मेंहदीपुर इलाका का निवासी है। बांग्लादेश में माल पहुंचाने

के बाद वह खाली ट्रक लेकर लौट रहा था। इसलिए उससे पूछताछ की जा

रही है कि आखिर यह जाली नोट उसे कहां और कैसे मिले।

वैसे बीएसएफ के मुताबिक बांग्लादेश से लौटने वाले खाली ट्रकों की ही

विशेष जांच करने के निर्देश प्राप्त हुए थे। इसका सीधा अर्थ है कि जांच

एजेंसियों को इस बारे में जानकारी थी। वहां मौजूद एसटीएफ अफसरों ने

एक खास ट्रक के आने के बाद उसकी गहन जांच कर यह जाली नोट बरामद

किये। वैसे सीमा सुरक्षा बल के लोग मानते हैं कि पूर्व सूचना के बिना इस

तरीक की तस्करी को रोक पाना कठिन है। बांग्लादेश की सीमा पर आने

जाने वाले हर ट्रक की इतनी गहराई से जांच नहीं की जाती। लेकिन जाली

नोट बरामद होने से यह स्पष्ट हो गया है कि एक बड़ा गिरोह इसमें शामिल

है। जो जाली नोट को अच्छे तरीके से पैक कर ट्रक के टायरों में भरकर

भेज रहा है।



Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Be First to Comment

Leave a Reply