fbpx

शुभेंदु के बड़बोलेपन से फिर संकट में भाजपा नेतृत्व

शुभेंदु के बड़बोलेपन से फिर संकट में भाजपा नेतृत्व
  • राष्ट्रीय खबर

कोलकाताः शुभेंदु के बड़बोलेपन से फिर पश्चिम बंगाल में भाजपा संकट में है। उनका यह

आचरण ही हर दिन पार्टी के लिए नई परेशानी खड़ी कर रही है। कुछ दिन पहले ही उन्होंने

बंगाल के पुलिस अधिकारियों को यह धमकी दी थी कि वे भी ज्यादा ममता भक्त होने की

कोशिश नहीं करें वरना उन्हें भी भारत के किसी दूरस्थ इलाके में स्थानांतरित किया जा

सकता है। इस बयान की भी बड़ी तीखी प्रतिक्रिया हुई थी। अब फिर से सोशल मीडिया में

एक वीडियो वायरल हो रहा है। इसमें शुभेंदु अधिकारी यह कहते हुए सुने जा रहे हैं कि

ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी के फोन का पूरा रिकार्ड उनके पास मौजूद है। यह

मामला इसलिए भी गरमा गया है क्योंकि अभी देश में पिगासूस की जासूसी का मामला

तूल पकड़ चुका है। सरकार भले ही इसे बेबुनियाद बता चुकी हो लेकिन विपक्ष हावी होता

जा रहा है। अब पश्चिम बंगाल में भाजपा नेता शुभेंदु अधिकारी के बड़बोलेपन की वजह से

किये गये इस दावे को पेगासस जासूसी से जोड़कर देखा जा रहा है। दरअसल, एक वीडियो

जिसमें पश्चिम बंगाल विधानसभा में विपक्ष के नेता शुभेंदु अधिकारी को कथित तौर पर

यह कहते हुए सुना जा सकता है कि उनके पास मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के भतीजे

अभिषेक बनर्जी के ऑफिस से किए गए सभी फोन कॉलों का रिकॉर्ड है। शुभेंदु अधिकारी के

इस दावे को अब पेगासस से जोड़कर देखा जाने लगा है। वीडियो में अधिकारी को भाजपा

की एक जनसभा को संबोधित करते हुए देखा जा सकता है।

शुभेंदु के बड़बोलेपन का वीडियो सोशल मीडिया में वायरल

इसके एक दिन बाद विपक्षी दलों ने संसद में भाजपा पर निशाना साधते हुए केंद्र पर

विपक्षी नेताओं का इजरायली मैलवेयर का उपयोग करके पत्रकार, नेता और कई

अधिकारियों की जासूसी करने का आरोप लगाया है। टीएमसी ने भी आरोप लगाया है कि

अभिषेक बनर्जी उन लोगों में शामिल हैं जिनका फोन टैप किया गया। 35 सेकंड के वीडियो

क्लिप में, अधिकारी को मुख्यमंत्री को ‘चाची’ और टीएमसी के राष्ट्रीय महासचिव और

लोकसभा सदस्य अभिषेक बनर्जी को ‘भतीजा’ कहते हुए सुना जा सकता है। वीडियो

जाहिर तौर पर हाल ही में बंगाल के किसी जिले में शूट किया गया था। अधिकारी को यह

कहते हुए सुना जा सकता है, ‘आईओ (जांच अधिकारी), प्रभारी निरीक्षक और पुलिस

अधीक्षक की भूमिका की जांच केंद्रीय जांच ब्यूरो द्वारा की जाएगी। तब तुम समझोगे कि

तुम्हें कोई आंटी नहीं बचा सकती। भतीजे के कार्यालय से आपको फोन किया जाता है। मेरे

पास सभी फोन नंबर और कॉल रिकॉर्ड हैं। यदि आपके पास राज्य सरकार है, तो हमारे

पास केंद्र सरकार है। शुभेंदु के बयान पर टीएमसी ने तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए

कहा कि वीडियो भाजपा की ओर से पेगासस के अवैध उपयोग की पुष्टि करता है।

टीएमसी के राज्य महासचिव कुणाल घोष ने कहा कि अधिकारी को तुरंत गिरफ्तार किया

जाना चाहिए और हिरासत में पूछताछ की जानी चाहिए। उन्होंने साबित कर दिया है कि

अभिषेक बनर्जी समेत कई लोगों की जासूसी करने के लिए पेगासस का इस्तेमाल किया

जाता था। यह एक जघन्य अपराध है। केंद्र अपनी शक्तियों का दुरुपयोग कर रहा है।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
Rkhabar

Rkhabar

... ... ...
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: