fbpx Press "Enter" to skip to content

पूर्व मुख्यमंत्रियों को आजीवन बुनियादी सुविधा के लिए मांझी ने लिखा पत्र

  • राष्ट्रीय खबर

पटनाः पूर्व मुख्यमंत्रियों के लिए आजीवन बुनियादी सुविधाओं की मांग पूर्व सीएम जीतन

राम मांझी ने की है। बिहार के पूर्व सीएम जीतनराम मांझी ने मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर

कई बुनियादी समस्याओं की जानकारी दी है और सरकारी स्तर से उसे दूर करने की मांग

भी की है। मांझी ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को लिखे खत में कहा है कि हम कामना करते

हैं कि आप कभी पूर्व सीएम न हों। क्यों कि पूर्व सीएम होने का दर्द हम झेल रहे हैं। पूर्व

सीएम जीतनराम मांझी ने अपने पक्ष में बिजली बिल से परेशानी का जिक्र किया है।

बिजली बिल से मांझी खासे परेशान हैं। मांझी ने सीएम नीतीश को लिखे पत्र में कहा है कि

सरकार पूर्व सीएम को कम से कम 5,000 यूनिट बिजली फ्री में दे। वर्तमान में विधायकों

को 2 हजार यूनिट बिजली फ्री है। वैसे विधायक जो पूर्व सीएम हैं उन्हें 5,000 यूनिट

बिजली फ्री में मिलनी चाहिए। मांझी ने पूर्व सीएम होने के नाते अतिरिक्त सुविधा की

मांग की है। बिजली के साथ-साथ सुरक्षा और आवास की सुविधा का भी जिक्र किया है।

पत्र में पूर्व सीएम को 15 वर्षो तक निःशुल्क आवास देने की मांग की गई है। सभी पूर्व

मुख्यमंत्रियों की सुरक्षा से विशेष सुरक्षा दल एस एस जी को नहीं हटाने की मांग की गई

है।

पूर्व मुख्यमंत्रियों को जेड प्लस श्रेणी की सुरक्षा मुहैया करायें

मांझी ने अपने पत्र में लिखा है कि दूसरे राज्यों की तरह बिहार के सभी पूर्व मुख्यमंत्रियों

को सरकार द्वारा जेड प्लस श्रेणी की सुरक्षा मुहैया कराये। सभी पूर्व मुख्यमंत्रियों को यात्रा

भत्ता के लिए कम से कम 5 लाख रुपए तक रेलवे एवं हवाई सुविधा दी जाए।पूर्व सीएम

को आजीवन सरकार के द्वारा स्वास्थ्य सुविधा संबंधी सुविधा दी जाये। किसी कारण

मुफ्त आवासीय सुविधा देना संभव नहीं है तो उनके निजी किराए के आवास के लिए

मकान भाड़ा, बिजली बिल, टेलीफोन बिल दिया जाये।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from HomeMore posts in Home »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from नेताMore posts in नेता »
More from बिहारMore posts in बिहार »
More from राज काजMore posts in राज काज »

Be First to Comment

... ... ...
%d bloggers like this: