fbpx Press "Enter" to skip to content

हर क्रिकेट प्रेमी को है आईपीएल 2020 के दोबारा शुरू होने की उम्मीद

  • एमएस धोनी की सीएसके बिना विदेशी खिलाड़ियों के नहीं खेलेंगे आईपीएल 2020
  • सिर्फ भारतीय खिलाड़ियों के साथ भी लीग का आयोजन किया जा सकता है
  • फ्रेंचाइजी भारतीय खिलाड़ियों के साथ आईपीएल खेलने को तैयार है
  • महमारी की वजह से शायद ये मुमकिन होता नजर नहीं आ रहा है


नई दिल्ली: हर क्रिकेट प्रेमी को अब भी आईपीएल का इंतजार है। यह प्रारंभ होने वाला था

कि दुनिया पर कोरोना वायरस का हमला हो गया। सभी को पता था कि 29 मार्च से

आईपीएल (आईपीएल) शुरू होने वाला था। हर क्रिकेट प्रेमी को आईपीएल 2020 के दोबारा

शुरू होने की उम्मीद है। लेकिन कोरोना महामारी की वजह से शायद ये मुमकिन होता

नजर नहीं आ रहा है। इस बीच ऐसे कई तमाम विक्लप तलाशे जा रहे हैं जिससे आईपीएल

लीग का आयोजन दोबारा किया जा सके। कहा ये भी जा रहा है कि अगर कोरोना संकट से

स्थिति समान्य होती है तो इस लीग को बिना विदेशी खिलाड़ियों के खेला जाएगा। यानि

की कढछ मैच सिर्फ भारतीय खिलाड़ियों के साथ ही खेला जा सकता है। हालांकि धोनी के

टीम चैन्नई सुपर किंग्स यानि की सीएसके ने ये साफ कह दिया है कि वे बिना विदेशी

खिलाड़ियों के इस लीग में नहीं खेलंगे।

आपको बता दें कि राजस्थान रॉयल्स ने अपना विचार रखते हुए साफ कहा था कि सिर्फ

भारतीय खिलाड़ियों के साथ भी लीग का आयोजन किया जा सकता है। इस विचार को

सीएसके ने साफ खारिज कर दिया और कहा कि अगर आईपीएल सिर्फ भारतीय

खिलाड़ियों के बीच होता है तो ऐसा लगेगा जैसे सैयद मुश्ताक अली टी 20 टूनार्मेंट खेल रहे

हैं।

हर क्रिकेट प्रेमी का अंदाज बाद में भी यह हो सकता है

साथ ही अगर कोरोना महमारी की वजह से ऑस्ट्रेलिया में टी20 वर्ल्ड कप भी स्थगित हो

जाता है तो बीसीसीआई इस साल के आईपीएल को सितंबर-अक्टूबर में आयोजित कर

सकता है। एक खबर के मुताबिक सीएसके के सूत्र ने बताया है कि अगर कढछ सिर्फ

भारतीय खिलाड़ियों के बीच होता है तो सीएसके इसके पक्ष में नहीं है।

वहीं बात करें राजस्थान रॉयल्स की तो वह इस लीग को सिर्फ भारताय खिलाड़ियों के साथ

खेलने के पक्ष में है। राजस्थान रॉयल्स के कार्यकारी अध्यक्ष रंजीत बारठाकुर के मुताबिक

इस वक्त कोई और ऑप्शन नहीं है और उनकी फ्रेंचाइजी भारतीय खिलाड़ियों के साथ

आईपीएल खेलने को तैयार है। बीसीसीआई ने कहा है कि कोरोना महमारी के कारण अगर

आईपीएल नहीं होता है तो इस साल क्रिकेट को 4000 करोड़ का नुकसान हो सकता है।


 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

2 Comments

Leave a Reply

error: Content is protected !!
Open chat