fbpx Press "Enter" to skip to content

झारखंड के इंटर-मैट्रिक की परीक्षाओं की उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन आज से

रांची : झारखंड एकेडमिक काउंसिल की ओर से ली गई इंटर-मैट्रिक की परीक्षाओं की

उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन 28 मई से शुरू हो रहा है। सुबह 9 बजे से शाम 5 बजे तक

रोजाना मूल्यांकन का काम किया जाएगा। इसे लेकर रांची समेत राज्य के तमाम उत्तर

पुस्तिका मूल्यांकन केंद्रों पर विशेष व्यवस्था की गई है। सोशल डिस्टेंसिंग मेंटेन करते हुए

तमाम परीक्षा केंद्रों पर परीक्षकों को बैठने की व्यवस्था के साथ-साथ सभी जरूरी सतर्कता

पर ध्यान रखा गया है। कोविड-19 के तहत जारी किए गए गाइडलाइन को भी तमाम केंद्रों

पर पालन किया जाएगा। रांची के 13 परीक्षा केंद्रों पर मूल्यांकन का काम होगा।

गाइडलाइन का होगा पालन

28 मई से राज्य भर के विभिन्न मूल्यांकन केंद्रों में जैक की ओर से ली गई मैट्रिक-इंटर

मीडिएट परीक्षा की उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन सुबह 9 बजे से शाम 5 बजे तक

संचालित होगी। तमाम मूल्यांकन केंद्रों को सेनेटाइज कर लिया गया है। सोशल डिस्टेंसिंग

का ख्याल रखते हुए परीक्षकों को उत्तर पुस्तिका जांच करने के लिए बैठाया जाएगा। रांची

जिले में 13 उत्तर पुस्तिकाओं के लिए मूल्यांकन केंद्र बनाए गए हैं और इन तमाम

मूल्यांकन केंद्रों में कोविड-19 के तहत गाइडलाइन जारी किए गए जिसका पालन होगा।

झारखंड में चार स्टैटिक बल की प्रतिनियुक्ति

शिक्षा सचिव राहुल शर्मा ने भी इसे लेकर एक विशेष निर्देश जारी किया है, जिसमे कई

महत्वपूर्ण विषयों को लेकर गाइडलाइन दिया गया है। शिक्षा सचिव राहुल शर्मा ने

लातेहार, चतरा, सरायकेला, खरसावां, लोहरदगा और खूंटी जिले को छोड़कर झारखंड के

तमाम जिलों के उपायुक्तों के लिए उत्तर पुस्तिका के मूल्यांकन की गतिविधियों पर पैनी

नजर रखने का निर्देश जारी किया है, साथ ही सभी मूल्यांकन केंद्रों पर विधि व्यवस्था

बनाए रखने के लिए एक दंडाधिकारी सहित निम्नतम चार स्टैटिक बल की जल्द से जल्द

प्रतिनियुक्ति भी करने को लेकर झारखंड सरकार ने आदेश जारी किया है।

15 दिन का टारगेट

इधर, रांची जिले के तमाम मूल्यांकन केंद्रों पर विशेष व्यवस्था की जा रही है। तमाम केंद्र

तैयार कर लिए गए हैं। सोशल डिस्टेंसिंग मेंटेन करते हुए उत्तर पुस्तिकाओं की मूल्यांकन

शुरू होगी। परीक्षकों को 15 दिन का लगभग टारगेट दिया गया है। इसी के तहत 6 लाख से

अधिक परीक्षार्थियों के उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन कर लिया जाना है। सीसीटीवी

कैमरे के आलावा कोरोना वायरस को लेकर सुरक्षात्मक एहतिहातन कदम भी तमाम

मूल्यांकन केंद्रों पर व्यवस्थित किए जा रहे हैं और इसी के तहत उत्तर पुस्तिकाओं का

मूल्यांकन किया जाएगा। तमाम केंद्रों पर साबुन और पानी की भी व्यवस्था है। परीक्षकों

को फेस मास्क लगाकर केंद्र में आने को कहा गया है, जो पूर्णत: अनिवार्य है।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from कामMore posts in काम »
More from कोरोनाMore posts in कोरोना »
More from झारखंडMore posts in झारखंड »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from पत्रिकाMore posts in पत्रिका »
More from रांचीMore posts in रांची »
More from राज काजMore posts in राज काज »
More from विधि व्यवस्थाMore posts in विधि व्यवस्था »
More from शिक्षाMore posts in शिक्षा »
More from स्वास्थ्यMore posts in स्वास्थ्य »

3 Comments

Leave a Reply

error: Content is protected !!