fbpx Press "Enter" to skip to content

रांची के कई थानों के अंदर प्रवेश अभी वर्जित किया गया

  • लोगों के लिए थाना के गेट पर लगाये ड्राप बॉक्स

  • लोगों की मदद के लिए गेट पर तैनात अफसर

  • आपसी संवाद के लिए व्हाट्सएप का सहारा

  • ऑन लाइन शिकायत भी दर्ज करा सकते हैं

संवाददाता

रांचीः रांची के कई थानों तक कोरोना संक्रमण के पहुंच जाने के बाद अब एहतियात बरती

जा रही है। संक्रमण को और फैलने से रोकने तथा बाहरी संक्रमण की वजह से थानों में

कार्यरत लोगों को बचाने के लिए वैकल्पिक उपाय किये गये हैं। इसके तहत अब थानों के

बाहर ड्राप बॉक्स लगाया गया है। कोरोना संक्रमण से बचाव के प्रावधानों के तह इन थानों

में लोगों के प्रवेश को वर्जित कर दिया गया है।

दरअसल जांच में रांची के पांच थानों में कार्यरत लोग कोरोना पॉजिटिव पाये गये हैं। इसके

बाद ही नये प्रावधानों के तहत लोगों को पुलिस सेवा उपलब्ध कराने के नये तरीके

आजमाये जा रहे हैं। इन पांच थानों को ही अब कंटेनमेंट जोन घोषित किया गया है। इन

थानों में प्रवेश पर अभी पूरी तरह रोक है। सूचना संवाद कायम रखने के लिए अभी पुलिस

वाले व्हाट्सएप का अधिकाधिक इस्तेमाल कर रहे हैं। महिला थाना, बरियातू थाना,

अरगोड़ा थाना, धुर्वा थाना, चुटिया थाना और हिंदपीढ़ी थाना के कर्मचारी कोरोना संक्रमित

पाये गये हैं। वैकल्पिक व्यवस्था के तहत थानों के प्रवेश द्वार पर ही थानों के पदाधिकारी

लोगों की शिकायतों की जांच करने के अलावा उनसे जरूरत पड़ने पर बात भी कर रहे हैं।

इस तरह थानों में प्रवेश पर पूर्ण प्रतिबंध होने के बाद भी लोगों को इन थानों से पुलिस सेवा

हासिल हो रही है।

रांची के कई थानों की हालत देख एसएसपी के नये निर्देश

थानों के लिए यह आदेश रांची के नये वरीय आरक्षी अधीक्षक सुरेंद्र कुमार झा ने जारी

किया है। थाने के गेट पर लगे ड्राप बॉक्स में लोग अपनी शिकायतें डाल सकते हैं। त्वरित

समाधान के तौर पर संबंधित थानों के थाना प्रभारियों के नंबर भी दिये गये हैं, जिनपर

लोग फोन कर जानकारी दे सकते हैं। इसके अलावा लोगों को ऑनलाइन शिकायत करने

अथवा जानकारी देने की भी सुविधा प्रदान की गयी है।

थानेदारों को वाट्सएप के जरिए जरूरी सूचनाएं भेजी जा रही हैं। महिला थाना, बरियातू

थाना, हिदपीढ़ी, अरगोड़ा, धुर्वा और चुटिया थाना के पुलिसकर्मियों के कोरोना संक्रमित

होने की पुष्टी हुई है। इन थानों में नो एंट्री की व्यवस्था कर दी गयी है। लोगों के लिए थाने

के बाहर से ही शिकायत की व्यवस्था की गयी है। थानों के मुंशी और ओडी पदाधिकारी को

गेट के अंदर ड्यूटी पर तैनात किया गया है।

खतरे के दायरे में हो सकते हैं कई अफसर

पुलिसकर्मियों में कोरोना संक्रमण मिलने के बाद उनकी कांटेक्ट ट्रेसिंग शुरू कर दी गयी

है। संक्रमित पुलिसकर्मियों से कई थानेदार से लेकर एसपी स्तर के अधिकारियों तक

संक्रमण का खतरा मंडरा रहा है। पुलिस के वरीय अधिकारियों ने सभी के कांटेक्ट ट्रेसिंग

का निर्देश दिया है।


 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from झारखंडMore posts in झारखंड »
More from रांचीMore posts in रांची »
More from स्वास्थ्यMore posts in स्वास्थ्य »

Be First to Comment

Leave a Reply

error: Content is protected !!