Press "Enter" to skip to content

इंग्लैंड के तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन एशेज टेस्ट में नहीं खेलेंगे







ब्रिस्बेन: इंग्लैंड के सर्वश्रेष्ठ तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन (39 साल) ब्रिस्बेन में होने वाले पहले एशेज टेस्ट में नहीं खेलेंगे। इंग्लिश टीम प्रबंधन ने ऐडिलेड में होने वाले डे-नाइट टेस्ट मैच में उन्हें तरोताजा रखने के लिए यह फैसला किया है।

एंडरसन ने पहले ही कहा था कि उनके लिए एशेज के सभी पांच मैच खेलना संभव नहीं होगा और वह श्रृंखला के सिर्फ तीन मैच खेलने पर ही नजर बनाए हैं। 2019 में हुए एशेजमें भी चोट के कारण एंडरसन अधिकतर मैचों में नहीं खेल पाए थे। उन्हें एजबेस्टन के पहले टेस्ट में चोट लगी थी और वह मैच के बीच से ही बाहर हो गए थे। इससे मैच में इंग्लैंड को एक गेंदबाज की कमी हो गई थी और वे टेस्ट मैच हार गए थे। इसके बाद कई लोगों ने एंडरसन को फिर से टीम में खेलने पर भी सवाल उठाए थे।

हालांकि एंडरसन ने इसके बाद वापसी करते हुए 17 टेस्ट में 57 विकेट झटके हैं। उन्होंने न्यूजीलैंड और इंग्लैंड के खिलाफ घरेलू सीरीज के सभी टेस्ट मैच खेले। वहीं एंडरसन का ब्रिस्बेन के गाबा में रिकॉर्ड कुछ खास नहीं रहा है।

वह यहां पर चार मैचों में 75.14 के खराब औसत से सिर्फ सात विकेट ले पाए हैं, जबकि ऐडिलेड में उन्होंने 29.50 की बेहतरीन औसत से 16 विकेट झटके हैं। इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) ने कहा, जिमी (जेम्स एंडरसन) पूरी तरह फÞटि हैं, उन्हें कोई चोट नहीं है। छह सप्ताह में पांच टेस्ट खेलना आसान नहीं है।

इंग्लैंड के तेज गेंदबाज लायंस टीम के साथ नहीं जाएंगे

इसलिए वह एडिलेड में होने वाले दूसरे टेस्ट में खेलते हुए दिखेंगे। 2019 एजबेस्टन टेस्ट की घटना के बाद वह और टीम प्रबंधन उनके फिटनेस के बारे में कोई जोखिम नहीं लेना चाहते हैं। उन्होंने सोमवार को अभ्यास सत्र के दौरान पूरी क्षमता से लगभग आधे घंटे तक गेंदबाजी की। वह मंगलवार को भी अभ्यास करेंगे।

पहले टेस्ट में नहीं खेलने के बावजूद वह इंग्लैंड लायंस टीम के साथ नहीं जाएंगे, बल्कि टेस्ट दल के साथ जुड़े रहेंगे और कोचिंग स्टाफ के साथ अपनी गेंदबाजी और फिटनेस पर काम करेंगे। ऐसा भी हो सकता है कि इंग्लैंड पहले टेस्ट में अपने दोनों प्रमुख तेज गेंदबाजों एंडरसन और स्टुअर्ट ब्रॉड के बिना ही उतरे। ब्रॉड भी घरेलू सीजन के दौरान पिंडली की चोट से परेशान हुए थे।

आॅस्ट्रेलिया की तैयारी भी क्वींसलैंड के खराब मौसम के कारण प्रभावित हुई है। जॉस बटलर ने कहा, हम चाहते हैं कि दल का प्रत्येक सदस्य मैच खेलने के लिए तैयार रहे। एंडरसन पहला टेस्ट नहीं खेल रहे हैं, लेकिन वह पूरी तरह से फिट हैं। यह एक लंबी सीरीज है और हम उन्हें सीरीज के महत्वपूर्ण मैचों में उपलब्ध देखना चाहते हैं। एक तरह से यह एहतियाती कदम है। उन्होंने कल अभ्यास सत्र में अच्छी गेंदबाजी की और वह आज भी गेंदबाजी करेंगे।

यह गेंदबाजी इकाई 20 विकेट निकाल सकती है

अगर ब्रॉड नहीं खेलते हैं तो स्पिनर जैक लीच को मौका मिल सकता है, वहीं बेन स्टोक्स की वापसी से टीम को संतुलन मिलेगा। हालांकि यह भी अभी निश्चित नहीं है कि वह गेंदबाजी करेंगे या नहीं। उन्होंने जुलाई से प्रतिस्पर्धी क्रिकेट में गेंदबाजी नहीं की है। कप्तान जो रुट ने स्टोक्स के बारे में कहा, वह जब भी मैदान पर उतरते हैं, अपनी छाप छोड़ना चाहते हैं।

आपको उनके अनुभव पर विश्वास करना होगा। पूरी गेंदबाजी इकाई सामूहिक रूप से 20 विकेट लेने की कोशिश करेगी। हमें बेन से उम्मीद है। अगर इंग्लैंड की तेज गेंदबाजी की बात करें तो आॅली रॉबिंसन और मार्क वुड को अभी भी आॅस्ट्रेलिया में टेस्ट मैच खेलना है, जबकि क्रिस वोक्स की औसत यहां पर 49.50 की रही है।

हालांकि बटलर को भरोसा है कि यह गेंदबाजी इकाई 20 विकेट निकाल सकती है। उन्होंने कहा, हमें उन पर भरोसा है। इसलिए ही ये गेंदबाज यहां पर आए हैं। हम जिस भी एकादश के साथ मैदान पर उतरेंगे उनमें 20 विकेट लेने की क्षमता होगी।



More from HomeMore posts in Home »
More from क्रिकेटMore posts in क्रिकेट »
More from खेलMore posts in खेल »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from देशMore posts in देश »

Be First to Comment

Leave a Reply

%d bloggers like this: