fbpx Press "Enter" to skip to content

प्राकृतिक रॉल व गोंद संस्थान के माध्यम से किसानों व मजदूरों के लिये किया जायेगा रोजगार का सृजन

  • मजदूरो को अब रोजगार के पलायन नहीं करना पड़ेगा
  • लाह की खेती व उत्पाद को रोजगार को बेहतरीन माध्यम बताया

रांची : प्राकृतिक रॉल व गोंद संस्थान के माध्यम से सीएम हेमंत सोरेन ने किसानों व

मजदूरों के लिये रोजगार सृजन करने की बात की। श्री सोरेन मंगलवार को नामकूम

स्थित भारतीय प्राकृतिक रॉल व गोंद संस्थान का निरीक्षण कर रहे थे। उन्होंने कहा कि

लाह की खेती व उत्पाद स्थानीय स्तर पर रोजगार उपलब्ध कराने में कारगर सिद्ध होगा।

उन्होंने कहा कि यहां के मजदूरों-किसानों को रोजगार के उपलब्ध कराने के लिये राज्य के

संसाधनों को अधिकतम उपयोग का प्रयास शुरू किया गया है। उन्होंने इसी क्रम में

प्राकृतिक रॉल और गोंद संस्थान के उत्पादन, प्रसंस्करण और अनुसंधान का जायजा

लिया। उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में लाह की खेती से किसानों को जोड़ा जायेगा। इसके

लिये किसानों को सभी संसाधन उपलब्ध कराया जायेगा और उचित सहायता मिलेगी।

प्राकृतिक संस्थान की पूरी दुनिया में रही है पहचान

श्री सोरेन ने कहा कि प्राकृतिक रॉल व गोंद संस्थान की पुरी दुनिया में अलग पहचान रही

है। यह संस्थान देश का इकलौता संस्थान है जो लाह की खेती और अनुसंधान के लिए

जाना जाता था। लाह की खेती में कभी बड़ी संख्या में ग्रामीण परिवारों को रोजगार मिलता

रहा है। लेकिन दुर्भाग्य से यह संस्थान और लाह की खेती आज विषम परिस्थितियों से

गुजर रही है। इसे फिर से उबारने का वक्त आ गया है। इसे विकसित करने के लिये

सरकार हर उपाय करेगी। रोजगार सृजन के लिए कड़ियों को जोड़ने का सिलसिला शुरू

किया गया है। इसी सिलसिले में ग्रामीण विकास विभाग की ओर से तीन योजनाओं का

शुभारंभ हो चुका है तथा आंतरिक संसाधनों का हो रहा आकलन। उन्होंने कहा कि प्रवासी

मजदूरों की वापसी के बाद उन्हें रोजगार से जोड़ने के लिये व्यापक कार्य योजना तैयार की

जा रही है। इस दौरान सीएम ने पदाधिकारियों के साथ संस्थान के पूरे परिसर का भ्रमण

किया। संस्थान के निदेशक डॉ केके शर्मा ने वन के साथ-साथ इसे कृषि से जोड़ने की

सलाह दी। इस अवसर पर विधायक राजेश कच्छप, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव राजीव

अरुण एक्का, संस्थान के निदेशक डॉ के के शर्मा, सूचना एवं जनसंपर्क निदेशक राजीव

लोचन बख्शी, प्रेस सलाहकार अभिषेक प्रसाद, वरीय आप्त सचिव सुनील कुमार

श्रीवास्तव सहित अन्य कई लोग उपस्थित रहे और सीएम के विचारों को सराहे।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from कला एवं मनोरंजनMore posts in कला एवं मनोरंजन »
More from झारखंडMore posts in झारखंड »
More from नेताMore posts in नेता »
More from राज काजMore posts in राज काज »

3 Comments

Leave a Reply

error: Content is protected !!