fbpx Press "Enter" to skip to content

ऊपर उठे सूढ़ से सट गया था बिजली का नंगा तार मर गया जंगली हाथी

  • पका हुआ कटहल खाने के चक्कर में हाथी की मौत

  • रात के इलाके के लोंगो ने चीत्कार सुनी थी

  • सुबह निकलकर देखा तो लाश पड़ी पायी

  • हाल के दिनों में ऐसी कई घटनाएं घटी

प्रतिनिधि

जलपाईगुड़ीः ऊपर उठे सूढ़ से वह पका हुआ कटहल तोड़ना चाहता था। पास से ही अधिक

वोल्टेज वाला बिजली का तार भी गुजरा था। कटहल तोड़ने की इसी कोशिश में हाथी का

सूढ़ इसी बिजली के तार में सट गया। बिजली के झटके से उसकी घटनास्थल पर ही मौत

हो गयी। इसके दो दिन पहले दो हाथी इसी तरीके से मारे जाने के बाद वन विभाग इसे

लेकर चिंतित हो गया है।

स्थानीय लोगों ने बताया कि बुधवार की रात को उन्होंने हाथी के चिल्लाने की आवाज

सुनी थी। रात के अंधेरे में कोई बाहर निकलने का साहस नहीं जुटा पाया। सुबह रोशनी

होने के बाद जब लोग निकले तो वामनडांगा चाय बगान के स्टाफ क्वार्टर के पीछे

उनलोगों ने मरे हुए हाथी के विशाल शव को देखा। दूर से ही यह भी नजर आ रही था कि

उसके सारे शरीर पर बिजली का तार भी गिरा हुआ है।

हाथी के मौत की खबर पाते ही आस पास के गांवों के लोग भी वहां घटनास्थल पर पहुंचे।

इस दौरान वहां की कुछ महिलाओं ने हाथी के शव के सम्मान में फूल भी चढ़ाये और

अगरबत्ती दिखाकर उसकी पूजा भी की। नागराकाटा थाना के प्रभारी संजू वर्मन ने इस

घटना की जानकारी देते हुए बताया कि इसी सूचना के आधार पर वन विभाग के डायना

रेंज कार्यालय को सूचना दी गयी थी।

स्थानीय निवासी मुकेश चौधरी ने कहा कि इस इलाके में अक्सर ही हाथियों का हमला

होता रहता है। रात को जब हाथी अंदर आये थे तो लोगों को उनके आने का पता चल गया

था। लेकिन अचानक हाथी के चिल्लाने की आवाज भी सुनाई पड़ी थी। लेकिन रात के

अंधेरे में निकलकर देखना खतरे से खाली नहीं था।

ऊपर उठे सूढ़ से सटा तार शरीर से उलझ गया

स्थानीय पर्यावरण प्रेमी संगठन स्पोर के महासचिव श्यामा प्रसाद पांडेय ने कहा कि उत्तर

बंगाल के इलाके में हाल के दिनों में हाथियों के इस तरीके से बिजली के झटके से मारे जाने

पर विचार करने की जरूरत है। अनेक जंगली इलाकों और चाय बगान के क्षेत्रों में बिजली

के तार इसी तरीके से लटके हुए है। इसे दुरुस्त करने की जरूरत है। डायना रेंज के रेंज

अफसर राज कुमार लायक ने कहा कि विभाग के लोगों ने वहां जाकर देखा है कि एक

वयस्क पुरुष हाथी का शव बिजली के तार से उलझा हुआ है। अब पोस्टमार्टम के बाद भी

उसके मौत के असली कारण की पुष्टि हो पायेगी। लेकिन देखकर ऐसा लगता है कि पका

हुआ कटहल खाने की लालच में यह हाथी बिजली के तार से सटकर मरा है


 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from HomeMore posts in Home »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from पर्यावरणMore posts in पर्यावरण »
More from पश्चिम बंगालMore posts in पश्चिम बंगाल »
More from मौसमMore posts in मौसम »
More from हादसाMore posts in हादसा »

Be First to Comment

Leave a Reply

error: Content is protected !!