चार साल में दो लाख से अधिक घरों तक बिजली पहुंचायी: रघुवर दास

चार साल में दो लाख से अधिक घरों तक बिजली पहुंचायी: रघुवर दास
  • अनगड़ा में ग्रिड उपकेंद्र का शिलान्यास किया

  • एलईडी बल्ब से राज्य के 684 करोड़ रुपये बचाये

  • एक रुपये की रजिस्ट्री का महिलाओं को मिला लाभ

संवाददाता



रांची: चार साल में इस सरकार ने दो लाख से अधिक घरों में बिजली पहुंचा दी है।

इसलिए आज सही मायने में उजाला दिवस मनाने का समय है।

67 साल में रांची के केवल 4 लाख घरों तक ही बिजली पहुंची थी।

लेकिन वर्त्तमान राज्य सरकार ने 4 साल में बिजली से वंचित 2 लाख 13 हजार, 374 घरों को बिजली से आच्छादित कर दिया।

अब राजधानी के प्रत्येक घर रोशन हो गए।

उन सभी को बधाई जिन्होंने इस कार्य में सरकार को अपना योगदान दिया।

अब सरकार 24 घंटे बिजली उपलब्ध कराने की दिशा में द्रुतगति से काम होगा।

2019 तक राजधानी के शहरी और ग्रामीण क्षत्रों में 24 घंटे बिजली सुनिश्चित कर दी जाएगी।

उक्त बातें मुख्यमंत्री श्री रघुवर दास ने कही। श्री दास मंगलवार को अनगड़ा में रांची जिले के शत प्रतिशत घरों में पूर्ण विद्युतीकरण के कार्य की घोषणा एवं 132/33 केवी ग्रिड उपकेंद्र, इरबा एवं सिल्ली के निर्माण कार्य के शिलान्यास समारोह में बोल रहे थे।

श्री दास ने कहा कि पूरे राज्य के घर 2018 तक पूर्ण विद्युतीकरण होंगे और 2019 तक 257 स्टेशन व 60 नए ग्रिड के माध्यम से 24 घंटे बिजली उपलब्ध कराया जाएगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य के लोग अपने घरों के छत और बंजर भूमि में सोलर खेती करें।

सरकार 3 रुपये प्रति यूनिट की दर से बिजली आप से क्रय करेगी।

साथ ही,सोलर खेती हेतु 50% अनुदान सरकार प्रदान करेगी।

इस कार्य से जहां आपको आमदनी होगी वहीं आप उजाला फैलाने का काम अपने क्षेत्र में कर सकेंगे।

चार साल में एलइडी बल्बों का उपयोग बढ़ा और पैसे बचे

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य की जनता ने एलइडी बल्ब का उपयोग कर 684 करोड़ रुपये की बचत की है।

उन्होंने अपील किया कि राज्य के उपभोक्ता एलइडी बल्ब का उपयोग  अधिक से अधिक करें।

मुख्यमंत्री ने कहा कि मैं दीपावली से पूर्व समृद्धि की प्रतीक माँ लक्ष्मी और शक्ति की प्रतीक माँ काली से कर जोड़ याचना करता हूँ कि वे हम सब को शक्ति दें।

ताकि जन शक्ति और सरकार की शक्ति मिलकर इस राज्य से गरीबी को मिटा सकें।

शक्तिशाली, समृद्धशाली राज्य बन सकें। हर गरीब के घर उजाला आये।

यों तो केंद्र और राज्य सरकार गरीब को पक्का घर,बिजली, स्वास्थ्य सुविधा, शौचालय प्रदान कर रही है, जिसमें काफी हद तक हम सफल भी हुए हैं।

गरीब और आदिवासी के जीवन मे बदलाव लाना सरकार का लक्ष्य है।

श्री रघुवर दास ने कहा कि आज बेटियां देश का मान बढ़ा रहीं हैं।

वो किसी मामले में पुरूषों से कम नहीं। बेटी दो परिवारों में संस्कार का संचार जरती हैं।

उन्होंने कहा कि बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ रथ को रवाना किया गया है जो यह संदेश देगा कि बेटा और बेटी में फर्क नहीं करना है। उन्हें पढ़ना है और स्वावलंबन की ओर अग्रसर करना है।

चार साल में महिला सशक्तीकरण पर ठोस काम भी हुए

महिला सशक्तिकरण हेतु जमीन या संपति रजिस्ट्री महिलाओं के नाम पर मात्र 1 रुपये में हो रही है अबतक 1 लाख 10 हजार महिलाओं ने लाभ लिया है।

जल्द स्कूलों में दी जाने वाली ड्रेस स्वयं सहायता समूह की महिलाएं तैयार करेंगी।

सरकार उन्हें सिलाई मशीन और और प्रशिक्षण देगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि पूर्व की सरकार द्वारा अगर वैल्यू एडेड पावर प्लांट लगता

तो आज झारखंड बिजली बेच रहा होता।

राज्य का कोयला बेच कर हम पूरे देश को रोशन कर रहें हैं।

केंद्र सरकार ने 4 हजार मेगावाट बिजली उत्पादन हेतु कार्य का शुभारंभ पतरातू में किया है।

इस तरह सरकार बिजली उत्पादन, संचरण, वितरण,गुणवत्ता और बिजली के सुदृढ़ीकरण की दिशा में कार्य कर रही है।

जो कहते हैं बिजली ठीक से नहीं मिल रही है उन्हें मैं कहना चाहता हूं कि 67 साल के इंतजार के बाद लोगों को बिजली तो मिल रही है

इससे पूर्व यह भी उन्हें नहीं मिल रहा था। जल्द 24 घंटे बिजली सभी को उपलब्ध होगा।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने बच्चों के बीच स्कूल यूनिफॉर्म, जोहार योजना के तहत 7 लाख 47 हजार, 86 आजीविका एवं स्वयं सहायता समूह के बीच 1 करोड़ 39 लाख की राशि का वितरण किया।

आदिवासी विकास समिति कांके को मुख्यमंत्री ने 10 लाख का चेक भी विकास कार्य हेतु दिया। उग्रवादी

हिंसा में मारे गए लोगों के आश्रितों रामचरित लोहरा कुशेश्वरी देवी को अनुकम्पा के आधार पर नियुक्ति पत्र सौंपा।

मुख्यमंत्री ने उपायुक्त, उप विकास आयुक्त समेत अन्य को रांची की पूर्ण विद्युतीकरण हेतु प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया।

इस अवसर पर सांसद रामटहल चौधरी, राज्य सभा सांसद महेश पोद्दार, कांके विधायक जितुचरण राम,

खिजरी विधायक रामकुमार पाहन, मांडर विधायिका श्रीमती गंगोत्री कुजूर,

सिल्ली विधायिका श्रीमती सीमा देवी, प्रबंध निदेशक ऊर्जा राहुल पुरवार, उपायुक्त रांची,

एसएसपी, रांची, उपविकास आयुक्त रांची व अन्य उपस्थित थे।

 



Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.