fbpx Press "Enter" to skip to content

अपनी निष्पक्षता नहीं दिखा पा रहा है केंद्रीय चुनाव आयोग




  • ममता पर कार्रवाई तो भाजपा पर मेहरबानी क्यों

  • भड़काऊ बातें तो मोदी और शाह ने भी बोले

  • बंगाल में उसे अब केचुआ कहा जाने लगा

विशेष प्रतिनिधि

कोलकाताः अपनी निष्पक्षता साबित करने में केंद्रीय चुनाव आयोग अब बुरी तरफ

असफल हो रहा है। ममता बनर्जी पर चौबीस घंटे की पाबंदी लगाने के बाद भी भाजपा

नेताओं को मनमाने भाषण की खुली छूट से यह आरोप साबित होता है। प्रदेश भाजपा

अध्यक्ष दिलीप घोष ने कहा है कि चार लोगों को सीआईएसएप ने एक मतदान केंद्र के

बाहर मार दिया है। इन चारों को अपराधी करार देने की वजह से उनकी जोरदार आलोचना

हुई है। इसके साथ ही एक अन्य भाजपा नेता राहुल सिन्हा ने एक कदम आगे बढ़ते हुए

कह डाला कि चार के बदले आठ लोगों को वहां मारा जाना चाहिए थे। इन दोनों बयानों के

खिलाफ चुनाव आयोग में शिकायत दर्ज होने के बाद भी अब तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है।

इसी वजह से ममता के धरनास्थल से दूरी बनाकर मौजूद तृणमूल समर्थकों ने आज

केंद्रीय चुनाव आयोग का नाम बदलकर केचुआ रख दिया। इसे लेकर वहां काफी देर तक

मजाक का माहौल बना रहा। टीएमसी के नेताओं का आरोप है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

और केंद्रीय गृह मंत्री जो कुछ कह रहे हैं, उसपर चुनाव आयोग ने कान बंद कर रखे हैं।

इससे साफ हो जाता है कि आयोग पश्चिम बंगाल के चुनाव में तटस्थ भूमिका नहीं निभा

पा रहा है।

स्पष्ट है कि पश्चिम बंगाल में मतदान की प्रक्रिया प्रारंभ होने के बाद से चुनाव आयोग

द्वारा ममता बनर्जी और टीएमसी के खिलाफ अब तक जो भी आदेश जारी किये गये हैं,

उनका पुलिंदा भी तैयार किया जा रहा है। इसका सीधा अर्थ है कि आने वाले दिनों में चुनाव

आयोग को अपने इन्हीं फैसलों के औचित्य को साबित करने के लिए तृणमूल सहित अन्य

विरोधी दलों के गंभीर आलोचना का शिकार होना पडेगा।

अपनी निष्पक्षता पर वाम मोर्चा और शिव सेना की भी आलोचना

आज ही ममता पर प्रतिबंध के फैसले की वामपंथी नेताओं ने भी आलोचना कर दी है। वाम

नेताओं ने इसे चुनाव आयोग की तरफ से लिया जाने वाला एकतरफा फैसलों में से एक

बताया गया है। नेताओं ने कहा है कि इन आचरणों से केंद्रीय चुनाव आयोग खुद यह

साबित करता जा रहा है कि वह भाजपा के पक्ष में ही काम कर रही है। उसके सारे फैसले

भी भाजपा को फायदा पहुंचाने के लिए लिये जा रहे हैं।



Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from HomeMore posts in Home »
More from चुनाव 2021More posts in चुनाव 2021 »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from पश्चिम बंगालMore posts in पश्चिम बंगाल »
More from बयानMore posts in बयान »

Be First to Comment

... ... ...
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: