fbpx Press "Enter" to skip to content

डॉ मंजू गाड़ी को रिम्स का निदेशक बनाया गया

रांची : डॉ मंजू गाड़ी को राज्य के सबसे बड़े अस्पताल रिम्स के निदेशक का प्रभार दिया

गया है। सरकार के इस फैसले से काफी समय से रिम्स को लेकर जारी विवाद का पटाक्षेप

हो गया है। इससे पहले भी कई बार रिम्स निदेशक के पद से डॉ डीके सिंह को हटाये जाने

की चर्चा सार्वजनिक हुई थी। लेकिन कागज पर इस दिशा में कोई कार्रवाई आज से पहले

नहीं हो पायी थी। झारखंड के स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता के साथ तनाव के बाद से ही खुद

डॉ सिंह भी यहां से जाना चाह रहे थे। उन्हें यहां से विरमित होने के बाद एम्स भटिंडा में

योगदान देना था। इस बीच कई किस्म के उथल पुथल के बीच पहले तो सरकार ने उनके

आग्रह को ही अनसुना कर दिया था। अब इस विवाद को समाप्त करते हुए स्वास्थ्य

विभाग ने वर्तमान निदेशक डॉ डीके सिंह को विरमित कर दिया और डॉ गाड़ी को निदेशक

का अतिरिक्त प्रभार सौंपा है। डॉ मंजू रिम्स में फार्माकोलॉजी विभाग में प्रोफेसर हैं। डॉ

डीके सिंह ने एम्स, भटिंडा में कार्यकारी निदेशक के पद पर नियुक्ति के बाद इस्तीफा दे

दिया था। जिन्हेंे हाल के दिनों में मुख्य मंत्री हेमंत सोरेन के स्तर पर रिलिव करने का

फैसला लिया गया।

डॉ मंजू गाड़ी अब डॉ सिंह का स्थान लेंगी

इससे पहले कोरोना वायरस महामारी के बीच रिम्स निदेशक का इस्तीेफा मंजूर करने

को लेकर स्वा स्य्ाय मंत्री बन्नां गुप्ता की तब खासी किरकिरी हुई थी, जब डॉ सिंह का

इस्ती्फा मंजूर कर उन्होंहने फाइल सीएम के पास बढ़ा दी थी। इस मामले में खासा विवाद

हुआ, मामले को तूल पकड़ने के बाद अब सीएम हेमंत सोरेन के स्तसर पर भी रिम्स

निदेशक का इस्ती फा मंजूर कर लिया गया है। समझा जाता है कि अब रिम्स में नये

निदेशक की नियुक्ति के बाद वहां डाक्टरों के बीच काफी अरसे से जारी घमासान की

स्थिति भी शांत होगी। वरना डाक्टरों की आपसी खींचा तानी की वजह से भी रिम्स का

काम काज इस कोरोना काल के दौरान भी बहुत अधिक प्रभावित होता रहा था।


 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from रांचीMore posts in रांची »

Be First to Comment

Leave a Reply

error: Content is protected !!