fbpx Press "Enter" to skip to content

चुनाव से पहले ही ट्रंप के खिलाफ सीनेट में महाभियोग प्रक्रिया शुरू

वाशिंगटनः चुनाव से पहले ही अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को सीनेट

में अपने खिलाफ लगे महाभियोग के आरोप का सामना करना पड़ेगा।

उनके खिलाफ ऐतिहासिक महाभियोग की सुनवाई सीनेट में शुरू हो गई

है। सीनेट में सांसदों ने शपथ ली कि वह इस मामले में निष्पक्ष फैसला

लेंगे। सुप्रीम कोर्ट के प्रधान न्यायाधीश जॉन रॉबर्ट ने सीनेटरों को निष्पक्ष

फैसला करने को लेकर शपथ दिलाई। इस प्रक्रिया के दौरान 99 सांसद

मौजूद थे जबकि एक गैरहाजिर था। रिपब्लिक सीनेटर जेम्स इनहोफ

शपथ लेने नहीं पहुंचे। इसके पीछे पारिवारिक कारण बताए जा रहे हैं।

हालांकि, उन्होंने कहा है कि वे मंगलवार तक सीनेट में मौजूद होंगे। माना

जा रहा है कि उनकी मौजूदगी के बाद उन्हें शपथ दिलाई जाएगी। सीनेटरों

के शपथ लेने के बाद सीनेट को 21 जनवरी दोपहर एक बजे तक के लिए

स्थगित कर दी गई। सीनेट में इस बात का फैसला होना है कि अमेरिका

के 45वें राष्ट्रपति को पद से हटाया जाए या नहीं।

चुनाव से पहले ऐसे आरोप को ट्रंप खारिज कर चुके हैं

ट्रंप पिछले कई महीनों से महाभियोग की प्रक्रिया पर सवाल उठा रहे हैं।

उन्होंने सुनवाई की शुरुआत को फर्जी बता दिया है। उन्होंने अपने राष्ट्रपति

कार्यालय के ओवल ऑफिस में संवाददाताओं को संबोधित करते हुए कहा

कि मुझे यकीन है कि यह बहुत जल्द खत्म हो जाएगी। उन्होंवने आरोप

लगाया कि यह कार्यवाही पूरी तरह से पक्षपातपूर्ण है। उन्होंजने कहा कि

मुझे एक फर्जी प्रक्रिया से गुजरना पड़ेगा क्योंदकि विपक्षी डेमोक्रेट चुनाव

जीतने की कोशिशों में लगे हैं। अमेरिका के इतिहास में तीन बार सीनेट

चैंबर सुप्रीम कोर्ट के मुख्य् न्यायाधीश की अध्यक्षता में महाभियोग

की प्रक्रिया हुई है। बीते 18 दिसंबर को डेमोक्रेट के बहुमत वाली

प्रतिनिधि सभा में ट्रंप के खिलाफ महाभियोग की कार्यवाही हुई थी।

अब यह प्रस्ताव सीनेट के समक्ष आया है जहां उनके बरी होने की

संभावना है। सीनेट में रिपब्लिक सदस्यों की संख्या ज्यादा है। ज्ञात हो

कि ट्रंप को राष्ट्रपति पद से हटाने के लिए दो तिहाई बहुमत की दरकार

होगी।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from यू एस एMore posts in यू एस ए »
More from राजनीतिMore posts in राजनीति »

Be First to Comment

Leave a Reply

error: Content is protected !!