fbpx Press "Enter" to skip to content

जिला प्रशासन ग्रामीण क्षेत्रों में भी सैनिटाइजर एवं मास्क का वितरण कराए

  • कोरोना के खिलाफ लड़ने में सरकार ग्रामीण क्षेत्रों पर भी दें ध्यान
  • सभी गांव को सैनिटाइज करने की उपलब्धता बनाए
  • लोगों के हितों को ध्यान में रखते हुए क्वॉरेंटाइन सेंटर का करें निर्माण

गढ़वा : जिला प्रशासन से गढ़वा के पूर्व विधायक सत्येंद्र नाथ तिवारी ने शुक्रवार को

ग्रामीण क्षेत्रों में अतिशीघ्र सैनिटाइजर एवं मास्क के वितरण कराए जाने की मांग की है।

गढ़वा रंका विधानसभा क्षेत्र के पूर्व विधायक सह भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष सत्येंद्र नाथ

तिवारी ने गढ़वा जिला प्रशासन से शहर के बाहर कम आबादी वाले क्षेत्र में क्वॉरेंटाइन

सेंटर बनाने की मांग की। उन्होंने जिला प्रशासन को कोरोना संक्रमण से बचाव हेतु सभी

गांव को सैनिटाइज करने के साथ-साथ, सभी गांव में मास्क, सेनीटाइजर मुहैया कराने को

कहा। ज्ञात हो कि गढ़वा जिला प्रशासन द्वारा विश्वव्यापी महामारी कोरोना के मद्देनजर

कोरोना संक्रमित संदिग्धों को क्वॉरेंटाइन करने के लिए गढ़वा जिला मुख्यालय स्थित

सघन आबादी क्षेत्र में अवस्थित राज होटल को क्वॉरेंटाइन सेंटर बनाया गया है। प्रशासन

के इस कदम से गढ़वा जिला के व्यवसायिक वर्ग एवं अन्य नागरिकों में भय का माहौल

है। शहरवासी इस बात को लेकर चिंतित हैं कि घनी आबादी क्षेत्र में क्वॉरेंटाइन सेंटर बनाए

जाने से आम लोग भी कोरोना से संक्रमित हो सकते हैं। प्रशासन के इस फैसले का

शहरवासियों द्वारा विरोध किया जा रहा है जो शायद लोगों के हित में गलत भी नहीं है।

कम आबादी क्षेत्रों में ना बनाए जाये क्वॉरेंटाइन सेंटर

मामले की गंभीरता और लोगों की परेशानी को देखते हुए पूर्व विधायक सत्येंद्र नाथ

तिवारी जी ने सदर एसडीओ से दूरभाष पर बात की। पूर्व विधायक ने एसडीओ से मांग

करते हुए कहा कि शहर के बाहर कई सरकारी बिल्डिंग है, जहां जनसंख्या बहुत कम है

इसलिए क्वॉरेंटाइन सेंटर बनाने के लिए शहर के बाहर स्थित सरकारी बिल्डिंग का प्रयोग

करना सबके हित में है। पूर्व विधायक ने कहा कि क्वॉरेंटाइन सेंटर शहर के बाहर बनाए

जाने से शहरवासियों के मन में भय भी नहीं रहेगा। पूर्व विधायक ने सदर एसडीओ से मांग

की है कि प्रशासन शहर के बाहर स्थित सरकारी बिल्डिंगों को क्वॉरेंटाइन सेंटर बनाकर

कोरोना के संदिग्धों/मरीजों को क्वॉरेंटाइन करें जिससे उन्हें इस बीमारी से बचाया जा सके

और साथ ही साथ कोरोना के संक्रमण को फैलने से रोका जा सके।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from HomeMore posts in Home »
More from कामMore posts in काम »
More from कोरोनाMore posts in कोरोना »
More from झारखंडMore posts in झारखंड »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from नेताMore posts in नेता »
More from पलामूMore posts in पलामू »
More from बयानMore posts in बयान »
More from रक्षाMore posts in रक्षा »
More from राजनीतिMore posts in राजनीति »

2 Comments

Leave a Reply

error: Content is protected !!