fbpx Press "Enter" to skip to content

रिटायर और निजी डॉक्टरों की सूची तैयार करने का निर्देश

  • स्वास्थ्य सचिव ने सभी डीसी को सूची बनाकर भेजने को कहा
  • चिकित्सा व्यवस्था को सुदृढ़ बनाने के लिए पड़ सकती है अन्य डॉक्टरों की आवश्यकता
  • राज्य में अस्पतालों में डॉक्टरों के चार हजार पद है खाली

रांची : राज्य में कोरोना से निपटने के लिए राज्य के निजी, रिटायर तथा अन्य विभागों में

कार्यरत डॉक्टरों की सेवा लिए जाने की तैयारी स्वास्थ्य विभाग कर रहा है। इस संबंध में

राज्य के सभी जिलों के डीसी को एक पत्र स्वास्थ्य सचिव डॉ. नितिन कुलकर्णी की ओर से

भेजा गया है। इसमें कहा गया है कि कोरोना वायरस के प्रसार को देखते हुए सरकारी

चिकित्सा व्यवस्था के सुदृढ़ बनाने के लिए अन्य डॉक्टरों की आवश्यकता पड़ सकती है।

सभी जिलों में रिटायर एवं अन्य विभागों में कार्यरत डॉक्टर उपलब्ध हैं। साथ ही कई

निजी डॉक्टर भी हैं। इन सभी की सेवाएं आवश्यकतानुसार प्राप्त की जा सकती है।

तत्काल इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए) के डॉक्टरों से संपर्क स्थापित कर ऐसे

डॉक्टरों की सूची तैयार कराई जाए, जिससे की आवश्यकता पड़ने पर सरकारी में उनसे

सहयोग प्राप्त किया जा सके। ऐसे डॉक्टरों से सहयोग के लिए सहमति भी प्राप्त की जाए।

स्वास्थ्य सचिव ने सभी डीसी को दो दिनों के अंदर जिलावार डॉक्टरों की सूची तैयार कर

विभाग को उपलब्ध कराने को कहा गया है। बताते चलें कि राज्य में अस्पतालों में डॉक्टरों

की कमी है। यहां डॉक्टरों के चार हजार पद खाली है। वहीं, आईएमए से करीब छह हजार

निजी और रिटायर डॉक्टर संबद्ध हैं।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from झारखंडMore posts in झारखंड »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from रांचीMore posts in रांची »
More from स्वास्थ्यMore posts in स्वास्थ्य »

Be First to Comment

Leave a Reply

error: Content is protected !!