Press "Enter" to skip to content

मोनू की मौत के मामले में डीआईजी मनु महाराज ने की बड़ी कार्रवाई




  • बरारी थाना प्रभारी सुनील कुमार झा को किया सस्पेंड
  • मुंगेर में भी एक दरोगा को किया निलंबित

प्रतिनिधि

भागलपुर : मोनू कुमार के घायल अवस्था में मुंगेर सदर अस्पताल से भागलपुर भेजे जाने और

भागलपुर के जवाहरलाल नेहरू मेडिकल कालेज अस्पताल में उसकी मौत के बाद

पुलिसिया लापरवाही का बड़ा मामला सामने आया है।

मुंगेर जमालपुर डीह निवासी इस युवक की मौत के बाद मुंगेर और भागलपुर डीआईजी के

प्रभार पुलिस उप महानिरीक्षक मनु महाराज ने कार्रवाई करते हुए भागलपुर के बरारी थाना अध्यक्ष

सुनील कुमार झा, पुलिस अवर निरीक्षक पुरेंद्र प्रसाद यादव, अवर निरीक्षक सुरेंद्र शर्मा

एवं सहायक अवर निरीक्षक शैलेश कुमार सिंह को निलंबित करने का आदेश दिया है।

निलंबित करने के बाद डीआईजी मनु महाराज की सुर्खियों में आ गए हैं

साथ ही इसी मामले में मुंगेर के पुलिस अवर निरीक्षक लाल बहादुर सिंह को भी निलंबित किया गया है।

बताया जाता है कि इलाज के दौरान 17 जून 19 को मोनू की मायागंज स्थित मेडिकल कॉलेज अस्पताल में मृत्यु हो गई थी

और उसकी मृत्यु के बाद अस्पताल द्वारा अंत परीक्षण व अन्य कार्रवाई के लिए

मोनू कुमार बरारी थाना अध्यक्ष को आॅडी स्लिप जारी किया गया था

परंतु बरारी थाना अध्यक्ष ने कोई कार्यवाही नहीं की और अस्पताल प्रशासन द्वारा शव को डिस्पोजल कर दिया गया था,

मिली जानकारी के अनुसार16 जुलाई को एक मुंगेर के जमालपुर का एक युवक मोनू कुमार लापता हो गया था,

जिसकी सड़क हादसे में इलाज के दौरान मौत हो गई थी

जब इसकी जांच की गई तो पता चला कि इलाज के दौरान पुलिस की भूमिका में पुलिस की बड़ी लापरवाही सामने आई थी,

जिसके बाद कार्रवाई करते हुए डीआईजी मनु महाराज ने पांच दारोगा को सस्पेंड कर विभागीय कार्रवाई का आदेश दिया है।

डीआईजी मनु महाराज ने अभी तक की बड़ी कार्रवाई की है।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •   
  •  
  •  
More from Hindi NewsMore posts in Hindi News »

Be First to Comment

Leave a Reply