Press "Enter" to skip to content

ढुल्लू महतो को हाईकोर्ट से नहीं मिली राहत, अग्रिम जमानत याचिका खारिज

  • ढुललू महतो की याचिका को जस्टिस एके चौधरी ने की खारिज
  • यौन शोषण मामले में फंसे है विधायक ढुल्लू महतो

रांची : ढुल्लू महतो केस में बुधवार को एक नया मोड़ देखने को मिला जब गिरफ्तारी के डर

से फरार चल रहे बाघमारा के विधायक ढुल्लू महतो को हाईकोर्ट से राहत नहीं मिली।

महिला से यौन शोषण के मामले में बुधवार को जस्टिस एके चौधरी की अदालत ने ढुल्लू

महतो विधायक की अग्रिम जमानत याचिका को खारिज कर दिया। यौन शोषण मामले में

विधायक ढुल्लू महतो की ओर से अग्रिम जमानत याचिका दाखिल की गई थी। मिली

जानकारी के अनुसार, विधायक ढुल्लू महतो की ओर से कहा गया कि उन पर झूठा आरोप

लगाया गया है। और राजनीतिक द्वेष के चलते ऐसा किया गया है। जबकि सरकार की

ओर से अधिवक्ता सूरज वर्मा ने कोर्ट को बताया कि विधायक पर 39 केस चल रहे हैं और

यह सूचक को जान से मारने की धमकी भी दे रहे हैं। ऐसे में अगर इन्हें जमानत दी गई तो

यह साक्ष्य के साथ छेड़छाड़ कर सकते हैं। इसके बाद कोर्ट ने विधायक ढुल्लू महतो की

अग्रिम जमानत याचिका को खारिज कर दिया। ढुल्लू महतो के खिलाफ कतरास थाने में

ऑनलाइन शिकायत की गई थी। शिकायत में महिला का आरोप था कि 13 नवंबर 2015

को फोन कर विधायक ने उन्हें रांची चलने को कहा था, लेकिन उनके पास समय नहीं था।

इसलिए उन्होंने मना कर दिया। एक सप्ताह बाद विधायक ने उन्हें फोन कर टुंडू गेस्ट

हाउस बुलाया। जब वह गेस्ट हाउस पहुंची तो वहां विधायक और आनंद शर्मा मौजूद थे।

थोड़ी देर के बाद आनंद शर्मा वहां से चले गए। फिर विधायक ने उनके साथ अभद्र व्यवहार

किया। विधायक से बचकर किसी तरह वह अपनी दुकान पहुंची। महिला ने अफनी

शिकायत में ये भी कहा कि ढुल्लू महतो के कहने पर वहां आनंद शर्मा पहुंच गए। वह कहने

लगे कि विधायक की बात मान लो, नहीं तो बुरे परिणाम भुगतने होंगे। गिरफ्तारी से डर

रहे भाजपा विधायक ढुल्लू महतो को कोर्ट से राहत नहीं मिली है जो फिलहाल फरार हैं।

ढुल्लू महतो ने पुलिस की आखों में झोंका था धूल

ढुल्लू की गिरफ्तारी के लिए बीते 19 फरवरी को उनके चिटाही स्थित आवास को पुलिस ने

छावनी में बदल दिया था, लेकिन इससे पहले ही ढुल्लू फरार हो गये थे।जिसके बाद से ही

पुलिस की कार्यशैली पर सवाल उठने लगे थे। आखिर ढुल्लू को देर रात शुरू हुई पुलिसिया

कार्रवाई की भनक कैसे लग गयी और वो आधी रात को घर से फरार हो गये। कतरास

थाना कांड संख्या 178/2019 के तहत दर्जन भर से ज्यादा पुलिस कर्मी बड़े अधिकारियों

के साथ ढुल्लू महतो की गिरफ्तारी के लिए बाघमारा के चिटाही पहुंचे थे। करीब आधे घंटे

की जद्दोजहद के बाद भी उनके घर पहुंची धनबाद पुलिस ढुल्लू को गिरफ्तार नहीं कर

सकी, क्योंकि इससे पहले ही वो फरार हो गये थे। हालांकि पुलिस ने औपचारिकता निभाने

के लिए ढुल्लू के आवास की गहनता से तलाशी ली थी, जहां कुछ न मिल सका था।

Spread the love
More from अपराधMore posts in अपराध »
More from झारखंडMore posts in झारखंड »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from नेताMore posts in नेता »
More from महिलाMore posts in महिला »
More from राजनीतिMore posts in राजनीति »

One Comment

... ... ...