fbpx Press "Enter" to skip to content

धनबाद नगर निगम की बारिश ने पोल खोलकर रखी दी लोग परेशान

झरियाः धनबाद नगर निगम क्षेत्र का झरिया शहरी क्षेत्र मानसून की पहली बारिश में

तालाब के रूप में तब्दील हो चुका है। मानसून के की पहली बारिश ने ही झरिया क्षेत्र में

नगर निगम के ड्रेनेज व्यवस्था पर प्रश्नचिन्ह लगा दिया है। नगर निगम प्रशासन द्वारा

मानसून के पूर्व से ही जो मानसून से निपटने के लिए तैयारियां की गई थी वह व्यवस्था

धरी की धरी रह गई।

झरिया कोयलांचल कोयले की राजधानी के रूप से जाना जाता है। सच मानिए तो पूरे

धनबाद जिले के और देश को राजस्व देने वाला झारिया में नगर निगम की बेहतर

व्यवस्था नहीं है। जबकि नगर निगम द्वारा टैक्स के बढ़ोतरी की रफ्तार दिन दूनी और

रात चैगुणी है। जबकि वास्तविकता यह है कि नगर निगम जिन भवनों भूमि या जमीन के

लिए टैक्स वसूलता है बैंक उन पर लोन नहीं देते। चंद घंटे की वारिश ने झरिया की हृदय

स्थित चिल्ड्रेन्स पार्क को मानो तालाब में तबदील कर दिया है। शहर के शहर के इस

एकमात्र पार्क में प्रतिदिन सुबह और शाम बड़ी संख्या में बुजुर्ग महिलाएं पुरुष एवं बच्चे

भ्रमण के लिए आते रहते हैं। लेकिन जलजमाव के कारण यह सब सप्ताह भर संभव नहीं

है। धर्मशाला रोड शहर का महत्वपूर्ण क्षेत्र है जहां बारिश के कारण जलजमाव बड़े पैमाने

पर हो गया है। जबकि क्षेत्र में मातृ सदन अस्पताल, स्टेट बैंक ऑफ इंडिया झरिया बाजार

शाखा सहित कई प्रतिष्ठान मौजूद है जहां बड़ी संख्या में लोगों की आवाजाही होती है।

बारिश की पानी के कारण सब को भारी मुसीबत झेलनी पड़ती है।स्थानीय दुकानदारों के

अनुसार बारिश की पानी के कारण से जलजमाव से का सीधा असर उनके व्यवसायिक

गतिविधियों पर होता है।

धनबाद नगर निगम पर सारे जनप्रतिनिधि चुप

झरिया अमलापाड़ा स्थित राजातालाब मोड़ जहां जलजमाव के कारण स्थिति बद से

बदतर होती है हो गई है। यहां अगल बगल में है चार बड़े शिक्षण संस्थान है। कोविड- के

कारण शिक्षण संस्थान बंद है।अन्यथा इस जलजमाव का खामियाजा इन शिक्षण

संस्थानों में अध्ययनरत छात्र-छात्राओं को भुगतना पड़ता। रही सही कसर बिजली विभाग

पूरी कर देती है। आकाश में बादल लगा नहीं की बिजली कट होना इन दिनों आम बात हो

गई है। बारिश होने के दौरान और बाद में घंटों बिजली गुम होना झरिया वासियों की

नियति बन गई है। मानसून की बारिश और जलजमाव तथा बिजली को लेकर पूछे गए

प्रश्नों पर जनप्रतिनिधि चुप्पी साध लेते हैं।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from HomeMore posts in Home »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from धनबादMore posts in धनबाद »
More from मौसमMore posts in मौसम »

2 Comments

... ... ...
%d bloggers like this: