Press "Enter" to skip to content

दिल्ली के मुख्यमंत्री का दावा शिक्षा के क्षेत्र में आयी क्रांति

नयी दिल्लीः दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि पांच

साल पहले जब आम आदमी पार्टी (आप) की सरकार बनी थी तब दिल्ली

के सरकारी स्कूलों की स्थिति खराब थी लेकिन हमारी सरकार ने जनता

के साथ मिलकर इन्हें दुरुस्त करके शिक्षा में क्रांति लाने का काम किया है।

श्री केजरीवाल ने आज यहां संवाददाता सम्मेलन में कहा कि दिल्ली की

बदहाल शिक्षा व्यवस्था को सुधारने के लिए यहां के दो करोड़ लोगों के साथ

मिलकर युद्ध स्तर पर कार्य किया गया जिसका परिणाम सभी के सामने

हैं। दिल्ली के बच्चों, अभिभावकों और शिक्षकों ने युद्ध स्तर पर काम

करके शिक्षा के क्षेत्र में क्रांति ला दी। दिल्ली की शिक्षा व्यवस्था की पूरे

दुनिया में चर्चा हो रही है और विभिन्न देशों के लोग इसे यहां देखने आ

रहे हैं। उन्होंने कहा कि शिक्षा के क्षेत्र में 70 साल में जो नहीं हो सका, वह

आप की सरकार ने पिछले पांच साल में कर दिखाया। देश को दिल्ली की

शिक्षा क्रांति पर गर्व है। उन्होंने कहा कि कुछ दिन पहले गृह मंत्री

अमित शाह ने दिल्ली की पढ़ाई पर प्रश्न उठाया और यहां की शिक्षा का

मजाक उड़ाया। श्री शाह ने दिल्ली के अभिभावकों और बच्चों का जिस

प्रकार मजाक उड़ा, उससे उन्हें दुख पहुंचा। श्री केजरीवाल ने कहा कि कुछ

दिन पहले हमने दिल्ली के स्कूलों को दिखाने के लिए श्री शाह को उनको

न्योता दिया था। साथ ही शिक्षक, अभिभावक से मिलवाना चाहता था।

अच्छी बात है कि अमित शाह को जाना पड़ रहा है

उन्हें खुशी है कि अमित शाह ने भाजपा के सांसदों समेत सभी नेता स्कूलों

की कमियां निकालने के लिए स्कूलों में घूमना शुरू किया लेकिन 1024

स्कूलों में से मात्र आठ स्कूलों में कुछ कुछ कमियां मिलीं। इसके लिए

यहां के अभिभावकों और बच्चों को बधाई देता हूं। उन्होंने कहा कि भाजपा

ने जिन आठ स्कूलों की कमियों को दिखाया है, उससे श्री शाह की यहां के

अभिभावकों और बच्चों के प्रति नफरत का पता चलता है।

दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कहा झूठ बोल रहे हैं भाजपा वाले

उन्होंने कहा कि दिल्ली के बच्चों और उनके माता-पिता ने बहुत मेहनत की है

उनका अपमान मत कीजिए। उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि

कल  भाजपा के सभी सांसद अलग-अलग स्कूलों में कमियां ढूंढ़ने गए लेकिन

मिला कुछ नहीं। गौतम गंभीर ने ट्वीट किया जिसमें एक वीडियो दिखाया

जिसमें स्कूल की बदहाली का जिक्र किया। इसकी सच्चाई अलग है क्योंकि

स्कूल कहीं और शिफ्ट हो गया है और इस स्कूल की इमारत को तोड़ने का

नोटिस भी लगा हुआ है। श्री गंभीर वहां गये होंगे लेकिन सार्वजनिक सूचना

नहीं पढ़ नहीं पाए होंगे क्योंकि जलेबी खाने में व्यस्त होंगे। वहां कल्याणपुरी

में जलेबी चौक बहुत मशहूर है। श्री सिसोदिया ने कहा कि इसी प्रकार रमेश

विधूड़ी ने दक्षिण दिल्ली के जिस स्कूल का दौरा किया था, उसका नया

वीडियो भी जारी किया। उन्होंने प्रवेश वर्मा के वीडियो के बारे में भी जानकारी

दी। उन्होंने कहा कि वहां भी नयी इमारत बन गयी है लेकिन पुराने भवन

के साथ प्रवेश वर्मा ने फेसबुक लाइव किया।

Spread the love
More from चुनावMore posts in चुनाव »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from दिल्लीMore posts in दिल्ली »
More from नेताMore posts in नेता »
More from बयानMore posts in बयान »
More from राजनीतिMore posts in राजनीति »

5 Comments

... ... ...
Exit mobile version