fbpx Press "Enter" to skip to content

दिल्ली की अनाज मंडी में भीषण आग से 43 की मौत

नयी दिल्लीः दिल्ली की अनाज मंडी में एक इमारत की चौथी और पांचवीं मंजिल पर रविवार सुबह भीषण आग

लग गयी जिसमें कम से कम 43 लोगों की दम घुटने से मौत हो गयी और करीब 15 लोगों की हालत गंभीर है।

फैक्टरी मालिक के भाई को पुलिस हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। जिस फैक्ट्री में लगी उसमें स्कूल बैग,

बोतल और अन्य तरह की चीजें जमा की गईं थी। यह फैक्ट्री आवासीय इलाके में चलाई जा रही थी।

झुलसे लोगों को राम मनोहर लाल लोहिया, हिंदू राव अस्पताल, सफदरजंग, लेडी हार्डिंग और लोक नायक

जयप्रकाश अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। इस बीच दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मृतकों के

परिजनों को 10-10 लाख रुपए मुआवजा देने का ऐलान किया है।

उन्होंने न्यायिक जांच के आदेश दिए और कहा कि इस मामले में जो भी दोषी होगा उसे सख्त से सख्त सजा दी

जाएगी। सरकार घायलों का इलाज कराएगी और प्रत्येक घायल को एक-एक लाख रुपये की राहत राशि दी जाएगी।

पुलिस के अनुसार आग लगने के कारणों का फिलल पता नहीं चल पाया है। मौके पर एनडीआरएफ, पुलिस और

फोरेंसिक टीम पहुंच कर आग लगने के कारणों की जांच की जा रही है।

उन्होंने बताया कि ज्यादातर लोगों की मौत दम घुटने से हुई है। अग्निशमन अधिकारी के अनुसार घटना की

जानकारी सुबह पांच बजकर 20 मिनट के करीब मिली और इसके बाद तुरंत दमकल विभाग की 30 से अधिक

गाड़ियों को मौके पर भेजा गया। आग पर पूरी तरह काबू पा लिया गया है।

दिल्ली की अनाज मंडी हादसे के न्यायिक जांच के आदेश

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने रानी झांसी रोड़ के निकट अनाज मंडी में रविवार सुबह एक चार मंजिला

इमारत में लगी भीषण आग के न्यायिक जांच के आदेश दिए है तथा मृतकों के परिजनों को दस लाख और घायलों के

परिजनों को एक लाख रूपए सहायता राशि देने की घोषणा की है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि इस मामले में जो भी दोषी होगा उसे सख्त से सख्त सजा दी जाएगी।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from दिल्लीMore posts in दिल्ली »
More from हादसाMore posts in हादसा »

2 Comments

Leave a Reply

error: Content is protected !!