दिल्ली पुलिस ने कन्हैया एवं अन्य के खिलाफ दाखिल किया चार्जशीट

कन्हैया कुमार मामले में आपातकाल जैसी गलती दोहराती केंद्र सरकार
Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

नई दिल्ली: दिल्ली पुलिस ने जेएनयू छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार, उमर खालिद और अनिर्बन भट्टाचार्य समेत 10 छात्रों के खिलाफ सोमवार को पटियाला हाउस अदालत में आरोप पत्र दाखिल किया।

पुलिस ने मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट सुमीत आनंद की अदालत में 1200 पृष्ठ का आरोप पत्र दाखिल किया।

इन तीनों के अलावा कुछ अन्य को भी आरोपी बनाया गया है।

आरोपपत्र में राजद्रोह के अलावा भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धाराएं

323, 465, 471, 149, 143, 147 और 120 बी समेत अन्य धाराएं लगायी गयी हैं।

जम्मू-कश्मीर के जिन लोगों के नाम आरोप पत्र में शामिल किये गये हैं,

उनमें आकिब हुसैन, मुजीब हुसैन, मुनीब हुसैन, उमर गुल, रईस रसूल, खालिद बशीर भट और बशरत अली शामिल हैं।

दिल्ली पुलिस की कार्रवाई का भाकपा ने साजिश बताया

भाकपा ने जवाहरलाल नेहरु विश्विद्यालय छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार के खिलाफ पुलिस की ओर से

करीब तीन साल के बाद आरोप पत्र दाखिल किये जाने की कड़ी निंदा करते हुए इसे राजनीति से प्रेरित बताया है।

भाकपा ने आज यहाँ जारी विज्ञप्ति में कहा है कि श्री कन्हैया कुमार के खिलाफ

एक हज़ार दिन के बाद आरोप पत्र दाखिल करना दरअसल इस छात्र नेता को झूठे आरोपों में फंसाना है

और चुनाव को देखते हुए यह सब किया गया है।

पार्टी ने कहा है कि पुलिस ने अपने आकाओं के राजनीतिक हितों को पूरा करने के लिए यह कारवाई की है।

विज्ञप्ति में कहा गया है कि वर्तमान सर कार अपने हितों को साधने के लिए

इस तरह संस्थानों का दुरूपयोग एवं उल्लंघन कर रही है।

भाकपा का कहना है कि जनता इस खेल को समझ गयी है और सरकार की इस साजिश को नाकाम कर देगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.