fbpx Press "Enter" to skip to content

विधायक डॉ इरफान अंसारी से मिला सुरक्षाकर्मियों का प्रतिनिधिमंडल

ओरमांझीः विधायक डॉ इरफान अंसारी भी अपने पास आये सुरक्षाकर्मियों से मिली

जानकारी पर अवाक रह गये। रांची जिला सुरक्षा कर्मचारी संघ के बैनर तले 155

सुरक्षाकर्मी जामताड़ा विधायक डॉक्टर इरफान अंसारी के आवास पहुंचे। जहां रांची जिला

सुरक्षा कर्मचारी संघ के महासचिव मोबिन अंसारी ने बताया कि सदर हॉस्पिटल रांची एवं

जिले के सभी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों से 155 सुरक्षाकर्मियों को हटा दिया गया है। 155

सुरक्षाकर्मी मामूली मानदेय 6400 पर काम कर रहे थे लेकिन सरकार इन को हटाकर

उनके स्थान पर होमगार्ड को बहाल किया है और होमगार्ड का मानदेय भी 15 से 20000

सरकार दे रही है। पिछले डेढ़ सालों से 155 सुरक्षाकर्मी पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास से लेकर

सांसद विधायक सभी के पास गुहार लगाया तो नौकरी वापस कराने के लिए लेकिन सभी

ने केवल आश्वासन दिया। बाद में जब नई सरकार बनी है खुद मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने

आश्वासन दिया था कि जल्द से जल्द आप लोगों की नौकरी वापस की जाएगी। राज्य के

स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने भी कहा था कि आप लोगों की नौकरी जल्द से जल्द वापस

देंगे और आप लोगों की बहाली करेंगे लेकिन अभी राज्य के स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता

अपनी बातों से मुकर गये है औऱ कह रहे है कि मैं चाहता हूं आप लोगों के काम हो जाए पर

मैं क्या करूं मेरी बातों को राज्य के स्वास्थ्य सचिव डॉक्टर नितिन मदन कुलकर्णी नहीं

मान रहे हैं मैं जब भी आप लोगों की नौकरी के लिए आदेश करता हूं तो स्वास्थ्य सचिव

उस आदेश को रोक देते हैं इसलिए आप लोग मुख्यमंत्री से मिलिए।

विधायक डॉ इरफान अंसारी को पूरे घटनाक्रम की जानकारी दी

आज जब इन सारी बातों को जामताड़ा विधायक डॉक्टर इरफान अंसारी को बताया गया

तो काफी चिंतित हो गए और कहा कि अगर राज्य के स्वास्थ्य मंत्री ऐसी बातें करें तो यह

बहुत ही दुर्भाग्य की बात है अगर विभाग के चाहे तो सभी 155 सुरक्षाकर्मी की बहाली हो

सकती है मालूम हो कि 155 सुरक्षाकर्मी की बहाली 1 मार्च 2013 को हुई थी जो सदर

अस्पताल से लेकर जिले के अन्य स्वास्थ्य केंद्रों पर अपनी ड्यूटी दे चुके हैं मार्च 2019 में

इन्हंे काम से बैठा दिया गया है इसके बाद सरकार के चौखट के दरवाजे पर गुहार लगाते

लगाते यह थक चुके हैं अब तो यह सुरक्षाकर्मी अपनों का करने की बात कर रहे हैं क्योंकि

इनके आर्थिक स्थिति डांवाडोल हो गया है खाने पीने के लाले पड़ गए हैं।


 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from झारखंडMore posts in झारखंड »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from रांचीMore posts in रांची »
More from राजनीतिMore posts in राजनीति »

Be First to Comment

Leave a Reply

error: Content is protected !!