Press "Enter" to skip to content

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने चीन सीमा के पास 12 नई सड़कों का उदघाटन किया

  • सुरक्षा की दृष्टि से महत्वपूर्ण सड़क 

  • चीन से तनाव के बीच सड़कों को खोले गया

  • रक्षामंत्री ने कहा उत्तर पूर्व का विकास कम हुआ

  • रणनीतिक दृष्टि से बहुत महत्व है : राजनाथ सिंह

भूपेन गोस्वामी

गुवाहाटी : रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह कल असम के दो दिवसीय दौरे पर पहुंचे हैं।रक्षा मंत्री

राजनाथ सिंह ने गुरुवार को असम के लखीमपुर में किमिन-पोटिन रोड का उद्घाटन

किया। यह उद्घाटन कार्यक्रम बिलगढ़ में हुआ. सीमा सड़क संगठन द्वारा निर्मित डबल-

लेन 20 किमी रोड अरुणाचल प्रदेश में प्रस्तावित औद्योगिक बेल्ट की स्थापना की

सुविधा प्रदान करेगी। ये रोड असम से निचले सुबनसिरी जिले के लिए मुख्य धमनी के

रूप में भी काम करेगी। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने सड़क परियोजनाओं का उद्घाटन करते

हुए कहा, “दो दिन पहले ही गलवान घाटी में हुई घटना को एक साल बीते हैं। हमारे जवानों

ने जिस शौर्य और पराक्रम का परिचय देते हुए अपनी शहादत दी और भारत की सीमाओं

की रक्षा की उसकी जितनी भी प्रशंसा की जाए वो कम है। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा,

“पूर्वोत्तर का रणनीतिक दृष्टि से बहुत महत्व है, इसका भूगोल बेजोड़ है। ये सड़कें विकास

के साथ-साथ सुरक्षा की दृष्टि से भी महत्वपूर्ण हैं।असम में सत्ता में आने के बाद बीजेपी

के नेतृत्व वाली सरकार हाल ही में शुरू की गई प्रमुख सड़क परियोजनाओं के माध्यम से

इस क्षेत्र में संपर्क बढ़ाने की कोशिश कर रही है। बीआरओ ने देश भर में ग्रामीण स्थानों

और दुर्गम इलाकों में सड़कों, सुरंगों और अन्य बुनियादी ढांचे को विकसित करके देश की

समृद्धि में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने पूरे उत्तरी और

पूर्वी सीमाओं में राष्ट्र को समर्पित 12 नई सड़कों का उद्घाटन किया। 12 सड़कों में से एक

सड़क केंद्र शासित प्रदेश लद्दाख में, एक सड़क जम्मू-कश्मीर में और 10 सड़कें अरुणाचल

प्रदेश में बनाई गई हैं।

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा मोदी के नेतृत्व में विकास

राजनाथ सिंह ने कहा कि लंबे समय से पूर्वोत्तर का विकास नहीं हुआ। अब पीएम मोदी के

नेतृत्व में जिस तरह से पूर्वोत्तर का विकास हुआ है उसकी जितनी भी तारीफ की जाए कम

है।रक्षा मंत्री ने आगे कहा कि इस क्षेत्र का बहुत महत्व है। कई देशों के साथ इस इलाके की

सीमाएं लगी हुई हैं। इन सड़कों के उद्घाटन से यहां रहने वाले लोगों को बहुत लाभ

मिलेगा। सिंह ने कहा कि यह मोदी सरकार के ‘एक्ट ईस्ट पॉलिसी’ का हिस्सा हैं, जिसके

तहत सरकार बॉर्डर क्षेत्रों के संपूर्ण विकास पर बहुत ज्यादा बल दे रही है। सीमावर्ती राज्यों

में कई महत्वपूर्ण पुलों और रोड निर्माण के काम को पूरा किया गया है।राजनाथ ने आगे

कहा कि पिछले सात सालों के दौरान सड़क परियोजनाओं और अन्य इन्फ्रास्ट्रक्चर को

विकसित करने के लिए बीआरओ के बजट में तीन से चार गुना की वृद्धि की गई है। पिछले

सात सालों में यहाँ की सुरक्षा की स्थिति में अभूतपूर्व सुधार हुआ है। विद्रोह से सम्बंधित

घटनाओं में 85 फ़ीसदी, और नागरिकों और सुरक्षा बलों की कैजुएलटी में काफ़ी कमी

आयी है। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने आगे कहा कि आज इस प्रदेश के किसानों की पहुंच

देश ही नहीं, विदेशों तक बढ़ी है। भारतीय सेना ने अपने शौर्य का पराक्रम का परिचय देते

हुए अपना बलिदान दिया है। मैं वीरता और स्मृति को नमन करता हूं।

Spread the love
More from HomeMore posts in Home »
More from उत्तर पूर्वMore posts in उत्तर पूर्व »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from रक्षाMore posts in रक्षा »
More from राज काजMore posts in राज काज »

Be First to Comment

... ... ...
error: Content is protected !!
Exit mobile version