fbpx

कुएं से मिला मजदूर सुखराम बेदिया का शव दो दिनों से था लापता

कुएं से मिला मजदूर सुखराम बेदिया का शव दो दिनों से था लापता

ओरमांझी: कुएं में सुखराम बेदिया का शव पाया गया है। ओरमांझी थाना क्षेत्र के अंतर्गत

ग्राम तापे निवासी 34 वर्षीय सुखराम बेदिया जो क्रेसर में मजदूरी का काम करता था।

जिसका अपने ही कुआं में डुबने के कारण आकस्मिक मृत्यु हो गयी। वहीं मिली प्राप्त

जानकारी के अनुसार, बताते चलें की, मृतक कि पत्नी रेखा देवी (30) ने ओरमांझी पुलिस

के समक्ष उपरोक्त घटना के संबंधित जानकारी देते हुए स्वेच्छा पूर्वक अपने बयान में कही

है कि मेरे पति रोजाना की तरह 19 जुलाई शनिवार को मजदूरी करने के लिए क्रेशर पर

गए थे और संध्या 5 बजे प्रतिदिन दिनचर्या अनुसार काम से लौटे भी वही काम से लौटने

के बाद घर के आस-पास घूमने फिरने के लिए निकले थे परंतु काफी देर होने के बाद भी

वापस घर नहीं लौटे अंधेरा होने के कारण आसपास के लोगों से इसकी चर्चा की गई और

फिर सुबह होते ही आसपास के लोगों के साथ मिलजुल कर घर के अगल-बगल कुआ

तालाब वगैरह में खोजबीन सामूहिक रूप से करने लगे इसी क्रम में हम लोगों ने अपने कुएं

में भी झांका जहां देखा गया के मेरे पति का खैनी का डिब्बा पानी पर तैरता हुआ दिखाई दे

रहा है वहीं ग्रामीण द्वारा झगड़ वगैरह खोज कर लाया गया और खोजने के उपरांत मेरे

पति के कपड़े से झग्गड़ में फंस गया जिसे खींचे जाने पर काफी वजन महसूस होने लगा।

कुएं से शव को झग्गड़ डालकर निकाला गया

जिसे जिससे हम लोगों को पूर्ण विश्वास हो गया कि मेरे पति अंधेरा होने के कारण शायद

कीचड़ की वजह से पांव फिसल गई होगी उस कारण से कुएं में डूब गए और काफी गहरा

कुआं होने के कारण तैरने जानते हुए भी निकल नहीं पाए और घर से दूर होने के कारण

हिलाने पर भी उनकी आवाज रात के समय में किन्ही को सुनाई नहीं दिया होगा इस

कारण से मेरे पति की आकस्मिक मृत्यु हो गई है इस घटना में मुझे किसी के ऊपर किसी

तरह की कोई संदेश नहीं है ना ही किसी से कोई आपसे मतभेद या रंजिश है और कोई

शख्स भाभी नहीं है मैं किन्ही को भी दोषी नहीं ठहरा सकता क्योंकि मेरे पति की मौत

गहरा कुआं के पानी में डूबने के कारण हो गई है।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
Rkhabar

Rkhabar

... ... ...
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: