पेट्रोल और डीजल के दामों में बढ़ोतरी के खिलाफ भाकपा का प्रदर्शन देखें वीडियो

पेट्रोल और डीजल के दामों में बढ़ोतरी के खिलाफ भाकपा का प्रदर्शन देखें वीडियो

बेरमो/ललपनिया: पेट्रोल और डीजल के दामों में बढ़ोत्तरी की वजह से हर चीज महंगी हो

रही है। अनाज, खाद्य तेल, दवाइयां, कपड़ा से लेकर के पेट्रोल-डीजल के दामों में लगातार

बढ़ोतरी के खिलाफ भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी द्वारा अभियान की शुरुआत होसिर स्थित

पेट्रोल पंप परिसर में सभा का आयोजन किया। वही अध्यक्षता मौजीलाल महतो ने किया।

वीडियो में देखिये भाकपा का प्रदर्शन

सभा को सम्बोधित करते हुए पार्टी के राज्य कार्य समिति सदस्य इफ्तेखार महमूद ने

कहा कि देश में पूरा पूरी तानाशाह की सरकार चल रही है, लोकतंत्र विलोपितकर दिया

गया है और जनता के लोकतांत्रिक अधिकार को फ्लाइट मोड में कर दिया गया है। कानून

एवं निष्पक्षता का मर्यादा की जगह केन्द्र सरकार की भक्ति ने जगह ले लिया है। आगे

महमूद ने कहा नरेन्द्र भाई मोदी के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार के शासन काल में देशके

शासक वर्ग ने कल्याणकारी स्वरूप को विलोपित कर व्यापारिक स्वरूप धारण कर लिया

है। कहा 15मई से लेकर 14जून तक के 1माह की अवधि में पेट्रोल एवं डीजल के दामों में

प्रति लीटर 6रुपये की वृद्धिकी गई है।अगर केंद्रसरकार थोड़ाभी संवेदनशील होती तो

लॉकडाउन केअवधि में,जब सामान्य लोगों के आय में भारी गिरावट आयी है, ऐसी स्थिति

में जरूरी सामानों के दाम स्थिर होना चाहिए, किंतु इसका उल्टा हुआ है।

सत्ता में आने के बाद भाजपा के बदल गये सुर

उन्होंने कहा कि मोदी जी के शासन में आने के समय वर्ष 2013-14 में अंतरराष्ट्रीय बाजार

में कच्चे तेल का दाम 46 रुपये से लेकर 60 रुपये प्रति लीटर था। उस समय देश में पेट्रोल

का दाम 70 से 80 था। आज जब कच्चे तेल प्रति लीटर 32 रुपये है, तो पेट्रोल का दाम 100

से पार कर गया है।खाद्य तेल हो या मोटा अनाज दवाइयां हो या कपड़ा -लॉकडाउन में सारे

सामानों के दाम काफी बढ़ा दिए गए हैं।उन्होंने कहा मोदी सरकार के पास सर्व साधारण के

लिए कोई सकारात्मक सोच दिखलाई नहीं पड़ रहा है,इससरकार ने शिक्षा व्यवस्था को

पूरा पूरी चौपटकर दिया और देश की अर्थव्यवस्था की रक्षा करने वाले किसानों को उलझा

करके रखे हुए हैं। सभा को गोमियां अंचल सचिव समर मांझी, जिला परिषद सदस्य

अनवर रफी, देवानंद प्रजापति आदि ने भी संबोधित किया।कार्यक्रम मेंपार्टी के युवानेता

रंजन कुमार महतो,सुरेश प्रजापति,छात्रनेता अफजल दुर्रानी, बद्री मुंडा, चंद्रदेव रविदास,

धनेश्वर रविदास, मो.खुर्शीद आलम, दिलबर केवट सहित कई लोग उपस्थित थे।

पेट्रोल और डीजल के दामों के खिलाफ अभियान की शुरुआत

पेटरवार : पेटरवार भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी की ओर से खाद्य पदार्थ, दवाइयां, कपड़ा से

लेकर पेट्रोल- डीजल के दामों में लगातार बढ़ोतरी के खिलाफ शुक्रवार को विरोध अभियान

की शुरुआत पेटरवार पेट्रोल टंकी परिसर में सभा का आयोजन कर किया गया जिसकी

अध्यक्षता महेंद्र मुण्डा ने की। पार्टी के जिला सचिव पंचानन महतो ने कहा कि देश में पूरी

तरह से तानाशाह की सरकार चल रही है लोकतंत्र विलोपित कर दिया गया है और जनता

के अधिकार को फ्लाइट मोड में कर दिया गया है। निष्पक्षता और कानून की जगह

प्रधानमंत्री की भक्ति ने जगह ले लिया है। पार्टी के राज्य सचिव मंडल के सदस्य इफ्तेखार

महमूद ने कहा कि नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार के शासनकाल में देश के

शासक वर्ग ने कल्याणकारी स्वरूप को विलोपित कर व्यापारिक स्वरूप धारण कर लिया

है। कहा कि 15 मई से लेकर 14 जून तक के एक माह की अवधि में पेट्रोल और डीजल के दामों

में बेताहाशा वृद्धि की गई है।केंद्र सरकार थोड़ा भी संवेदनशील होती तो लॉकडाउन के

अवधि में जब सामान्य लोगों के आय में भारी गिरावट आयी है ऐसी स्थिति में जरूरी

सामानों के दाम स्थिर होना चाहिए था लेकिन इसका उल्टा हुआ है। उन्होंने कहा कि मोदी

के शासन में आने के समय वर्ष 2013-14 में अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल का दाम 46

से लेकर 60 रुपये प्रति लीटर था उस समय देश में पेट्रोल का दाम 70 से 80 रुपया हुआ

करता था लेकिन आज जब कच्चे तेल प्रति लीटर 32 है तो पेट्रोल का दाम 100 रुपये से

पार कर गया है।

कोरोना काल में गरीबों पर बोझ है यह मूल्यवृद्धि

खाद्य तेल हो या मोटा अनाज दवाइयां हो या कपड़ा लॉकडाउन में सारे सामानों के दाम

काफी बढ़ा दिए गए हैं।उन्होंने कहा कि मोदी सरकार के पास सर्वसाधारण के लिए कोई

सकारात्मक सोच दिखलाई नहीं पड़ रहा है इस सरकार ने शिक्षा व्यवस्था को पूरी तरह से

चौपट कर दिया और देश की अर्थव्यवस्था की रक्षा करने वाले किसानों को उलझा कर रखे

हुए हैं। सभा को पेटरवार एवं गोमियां अंचल सचिव महेंद्र मुंडा, समर मांझी, जिला परिषद

सदस्य अनवर रफी देवानंद प्रजापति ने भी सम्बोधित किया। कार्यक्रम में कालू बंसल,

इगलू झांसी सुमन महतो, टेकन महतो, पूरन तुरी, भोला महतो, राधेश्याम महतो, हरिदास

महतो, राजकुमार तुरी, दिनेश्वर महतो, बद्री मुंडा, सुरेश प्रजापति, अफजल

दुर्रानी,उमाचरण रजवार,प्रह्लाद महतो सहित अन्य मौजूद रहे।

इसी मुद्दे पर लालबांध के समीप प्रदर्शन

बेरमो/ललपनिया: पूर्व से निर्धारित कार्यक्रम के तहत शुक्रवार को भाकपा माले गोमिया

प्रखंड कमिटी द्वारा बढते महंगाई तथा पेट्रोल और डीजल के दामों में मूल्य वृद्धि के

जिम्मेवार केंद्र के मोदी सरकार खिलाफ गोमिया प्रखंड के साडम लालबांध के समीप में

विरोध प्रदर्शन किया।माले नेता सुरेंद्र प्रसाद यादव ने कहा कि मोदी सरकार को अब

क्षणिक भरभी सता में बने रहने का अधिकार नहीं है,भाजपा की मोदी सरकार देश की

दुर्दशा अंधकार में ले गई है।भाजपा सरकार एक तरफ वैश्विक महामारी से निपटने में पूरी

तरह विफल साबित हो चुकी है। देश में बेरोजगारो की फौज खड़ी होती जा रही है दूसरी

तरफ सरकार रोजगार देने के दरवाजे को ही बंद कर दी है। देश के बडे -बडे कंपनियों जैसे

कोल इंडिया से भी केंद्रसरकार ने हर वर्ष हजारों कर्मचारियो को छंटनी करने का प्रस्ताव

लाया है। इसका साफ मत लब हैकि भाजपा सरकार देश में नौकरियों में लोगोंको भी बहुत

जल्द ही बाहर का रास्ता दिखाएगी। इसके अलावा मोदी सरकार महंगाई को कम करने

पूरी तरह फेल हो चूकी है,खाद्य पदार्थों के अलावा डीजल,पेट्रोल की मूल्य वृद्धि में हर रोज

इजाफा हो रहा है,अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल का दाम भी नही बढ रहा है उसके

बावजूद भी आम जनता का खून चूसने का काम केंद्र के मोदी सरकार कर रही है,जिसे

हमारी पार्टी बर्दाश्त नहीं करेगी,आज हमलोगों ने इसकी शुरुआत कर दी है महंगाई के

खिलाफ आंदोलन और तेज किया जाएगा। मौके पर धीरज पासवान, मनोवर राय,

सरफराज राय, गुलाम रबानी, मुबारक राय, सेराज राय उपस्थित थे।

Spread the love

Rkhabar

2 thoughts on “पेट्रोल और डीजल के दामों में बढ़ोतरी के खिलाफ भाकपा का प्रदर्शन देखें वीडियो

... ... ...
error: Content is protected !!
Exit mobile version