fbpx Press "Enter" to skip to content

देश में कोरोना वायरस का संक्रमण का तेजी से फैलना प्रारंभ हुआ

  • संक्रमितों की संख्या 2301 हुई
  • अब तक पूरे देश में 56 की मौत
  • मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है


नयी दिल्ली : देश में कोरोना वायरस (कोविड-19) के संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 2301 हो गयी है

तथा संक्रमण के कारण अब तक 56 लोगों की मौत हो गयी है।

स्वास्थ्य मंत्रालय की शुक्रवार को जारी रिपोर्ट के मुताबिक कोरोना वायरस का प्रकोप

देश के 29 राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों में फैल चुका है और अब तक इसके 2301 मामलों की पुष्टि हो चुकी है।

इनमें 55 विदेशी मरीज भी शामिल हैं।कोरोना वायरस के संक्रमण से

देशभर में अब तक 56 लोगों की मौत हुई है जबकि 157 लोग स्वस्थ हो चुके हैं।

देश में कोरोना से महाराष्ट्र में सर्वाधिक 335 लोग संक्रमित हैं तथा 16 लोगों की मौत हो गयी है,

दूसरे स्थान पर तमिलनाडु है जहां 309 लोग संक्रमित हैं तथा एक व्यक्ति की मौत हुई है।

केरल में 286 संक्रमित हैं और दो लोगों की मौत हुई है।

दिल्ली में 219, आंध्र प्रदेश में 132 और कर्नाटक में 124 लोग संक्रमित हैं

तथा क्रमश: चार, एक और तीन लोगों की मौत हुई है।

देश में कोरोना वायरस पीड़ितों की संख्या में ईजाफा

राजस्थान में 133, तेलंगाना में 107, मध्य प्रदेश में 99 और गुजरात में 87 लोग संक्रमित हैं।

मध्य प्रदेश में छह और गुजरात में छह लोगों की मौत हुई है।

पंजाब में चार, तेलंगाना,और पश्चिम बंगाल में तीन-तीन, दिल्ली, केरल, जम्मू-कश्मीर

एवं उत्तर प्रदेश में दो-दो, बिहार और हिमाचल प्रदेश में एक-एक व्यक्ति की मौत हुई है।

डाक्टर,पुलिस पर हमला करने वालों रासुका

उत्तर प्रदेश सरकार ने पुलिस को साफ निर्देश दिये है कि लोगों की सुरक्षा की खातिर डाक्टरों,

पुलिसकर्मियों और सामाजिक कार्यकर्ताओं पर हमला करने वालों के खिलाफ

राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका) के तहत मामला दर्ज करें।

आधिकारिक सूत्रों ने शुक्रवार को कहा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर सरकार ने आदेश जारी किया है कि

लाकडाउन के दौरान अगर कोई चिकित्सक,पुलिसकर्मी अथवा

सामाजिक कार्यकर्ता पर हमला करता है तो उसके खिलाफ रासुका के तहत कार्रवाई की जाये।

अलीगढ़ से प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार बन्नादेवी क्षेत्र में गुरूवार को पुलिस पर पथराव करने के आरोप में पुलिस ने तीन लोगों को गिरफ्तार किया था।

पुलिस क्षेत्राधिकारी पंकज श्रीवास्तव ने कहा ये लोग बन्नादेवी में स्थित एक मस्जिद में नमाज पढ़ रहे थे।

पुलिस ने मौके पर पहुंच कर उनको समझाने की कोशिश की जिस पर उन्होने पुलिस पर पथराव शुरू कर दिया।

गाजियबाद से प्राप्त रिपोर्ट मे कहा गया है कि एमएमजी अस्पताल में

डाक्टरों और पैरामेडिकल स्टाफ से बदसलूकी करने के आरोप में एफआईआर दर्ज की गयी है।

बाद में सभी को राजकुमार गोयल तकनीकी संस्थान क्वारंटीन में भेज दिया गया।

इससे पहले बुधवार को मुजफ्फरनगर जिले के मोरना में लाकडाउन का उल्लघंन कर रही भीड़ को रोकने पर हुये पथराव में एक उपनिरीक्षक और कांस्टेबल घायल हो गये थे।

रामपुर,बरेली,बिजनौर समेत कुछ अन्य शहरों से भी धार्मिक स्थलो में छिपे लोगों द्वारा पुलिस पर हमला करने की रिपोर्ट मिली हैं।

तबलीगी जमात के मरीज, नर्सों को कर रहे गंदे इशारे

निजामुद्दीन में स्थित तबलीगी जमात से क्वारंटीन किए गए

लोगों की ओर से लगातार दिल्ली से लेकर यूपी तक में

स्वास्थ्यकर्मियों के साथ अनुचित और दुर्वयवहार की खबरें लगातार आ रही हैं।

पहले तो स्वास्थ्यकर्मी पर दिल्ली के तुगलकाबाद में थूकने की शिकायतक और

धीरे-धीरे तबलीगी जमात के कोरोना संदिग्ध जाहिलपन की सारी हदें पार करते नजर आ रहे हैं।

गाजियाबाद के एमएमजी में भर्ती जमाती लगातार अस्पताल स्टाफ के साथ

दुर्व्यवहार कर रहे हैं सीथ ही ये लोग नर्सों के सामने ही कपड़े बदलने के लिए कपड़े खोल देते हैं।

कपड़ा उतारकर नंगे घूमते हैं और अश्लील गाना सुनते और गाते हैं।

गाजियाबाद में जिला सरकारी अस्पताल के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक (सीएमएस) ने घंटाघर कोतवाली में इस बारे में सूचना दी है।

एमएमजी अस्पताल के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक ने पत्र लिखकर शिकायत की कि आइसोलेशन वार्ड में रखे गए कोरोना वायरस के संभावित मरीज

जो तबलीगी जमात से ताल्लुक रखते हैं वो वार्ड में बिना कपड़ों के घूमते रहते हैं।

इसके अलावा पत्र में यह भी लिखा गया है कि जमाती मरीज स्टाफ नर्स के सामने अश्लील गाने सुनते हैं और गंदे-गंदे इशारे करते रहते हैं।


 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

3 Comments

  1. […] देश में कोरोना वायरस का संक्रमण का तेज… संक्रमितों की संख्या 2301 हुई अब तक पूरे देश में 56 की मौत मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है नयी दिल्ली … […]

Leave a Reply

error: Content is protected !!
Open chat