fbpx Press "Enter" to skip to content

पालतू जानवरों को मारकर फेंक रहे हैं चीन के लोग

  • बहुमंजिली इमारतों से फेंके जा रहे हैं कुत्ते और बिल्ली

  • कोरोना वायरस के फैलने के बाद अफवाह भी फैली

  • सरकारी स्तर पर अफवाह के खंडन का काम जारी

बेइजिंगः पालतू जानवरों की जान पर अब चीन में आफत आ गयी है।

कोरोना वायरस का प्रसार होने और उससे अनेक लोगों की मौत होने के

बाद यह स्थिति पैदा हुई है। जब से ये यहां के लोगों को पता चला है कि

वायरस पालतू जानवरों से फैल सकता है उसके बाद लोग अपने यहां

के पालतू जानवरों को या तो घर के बाहर छोड़ दे रहे हैं या उन्हें कहीं

दूर छोड़ आ रहे हैं। बहुमंजिली इमारतों की स्थिति और भी बदतर है।

यहां पालतू जानवरों को बाहर छोड़ने का मौका नहीं होने की वजह से

लोग अपनी बिल्डिंग की बालकनी से इन पालतू जानवरों को नीचे फेंक

दे रहे हैं जिससे उनकी मौत हो जा रही है। बीते कुछ दिनों में चीन में

ऐसे एक दर्जन से अधिक मामले सामने आ चुके हैं। स्थानीय पुलिस के

पास सड़क पर मृत पाए जा रहे ऐसे पालतू जानवरों की कई शिकायतें

भी पहुंच रही हैं। कई वेबसाइटों ने इस तरह की खबरें प्रकाशित भी की

है। चीन के हेबै प्रांत के तियानजिन शहर में एक पालतू कुत्ते के ऊंचे

टावरों से फेंक दिया गया जिसके कारण उसकी मौत हो गई। सड़क पर

पालतू कुत्ते को मृत पाया गया, उसके पास खून भी बिखरा हुआ

मिला। इसी तरह से शंघाई में 5 बिल्लियों को भी ऊंचे टावरों से फेंककर

मार दिया गया। स्थानीय लोगों का कहना है कि अब तक जो लोग इन

जानवरों को अपने घरों में अपने बिस्तरों पर रखकर उन्हें पाल रहे थे,

अब उन्हें ऊंटे टावर की बालकनी से फेंककर मौत के घाट उतार रहे हैं।

पालतू जानवरों की मौत देखकर ही स्पष्ट है घटना

इन जानवरों की स्थिति देखने से साफ हो जाता है कि ये पालतू ही थे

क्योंकि इनकी स्थिति सड़क पर घूमने वाले आवारा जानवरों से

एकदम अलग दिखाई पड़ जाती है। शनिवार को भी इसी तरह से एक

पालतू कुत्ते को ऊंची बिल्डिंग के टावर से नीचे फेंका गया जो नीचे

खड़ी एक कार से सनरूफ पर आकर गिरा, इस वजह से कार का

सनरूफ टूट गया, इस आवाज को स्थानीय लोगों ने सुना, जब उन्होंने

बाहर निकलकर देखा तो उनको कार पर एक पालतू कुत्ता गिरा हुआ

दिखाई दिया।

बीमारी के बारे में चीनी राज्य टीवी फैला रहे जागरूकता

इस तरह की घटनाएं सामने आने के बाद अब चीनी राज्य टीवी

स्थानीय स्तर पर जागरूकता फैला रहे हैं जिससे लोग अपने यहां

पालतू जानवरों को ना मारें। चीनी राज्य टीवी पर डॉ.लंजुआन ने कहा

कि इस तरह की घटनाएं चौंकाने वाली हैं। उनका कहना है कि यदि

पालतू जानवर संदिग्ध रोगियों के संपर्क में आते हैं, तो उन्हें अलग

किया जाना चाहिए। ना कि उनको इस तरह से मारने का प्रयास करना

चाहिए। उन्होंने बताया कि कुछ स्थानीय लोगों ने इस तरह की

अफवाह फैलाने का भी काम किया है जिसके कारण चीनी नागरिकों में

और भी डर बैठ गया है। इस वजह से वो अपनी जान बचाने के लिए

इस तरह से जानवरों की हत्या करने लग गए हैं। झूठे दावों को लगाने

और समाप्त करने के लिए, चाइना ग्लोबल टेलीविजन नेटवर्क ने

विश्व स्वास्थ्य संगठन के एक उद्धरण को भी पोस्ट किया है। चीन के

लिए पेटा एशिया के अधिकारी कीथ गुओ ने कहा कि जिन लोगों ने इस

तरह से जानवरों की हत्या की है, स्थानीय पुलिस जल्द ही उनका पता

लगा लेगी। उनका कहना है कि अभी तक ऐसा माना जा रहा था कि

चीन के वुहान मीट बाजार से ये वायरस फैला है मगर इसके पुख्ता

सबूत नहीं मिले है। अब लोग पालतू जानवरों को भी इसका वाहक

मानने लगे हैं जिसके कारण इस तरह से बालकनी से फेंककर इनकी

हत्या की जा रही है।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

One Comment

Leave a Reply

Open chat
Powered by