fbpx Press "Enter" to skip to content

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कहा दिल्ली हिंसा के लिए केंद्र सरकार दोषी

नयी दिल्लीः कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने दिल्ली में हुयी हिंसा के लिए केंद्र सरकार

को दोषी ठहराते हुए गृह मंत्री अमित शाह से इस्तीफा और राजधानी में शान्ति बहाल

करने के लिए तत्काल कदम उठाने की मांग की है। श्रीमती गांधी ने आज अचानक कांग्रेस

मुख्यालय में प्रेस कॉन्फ्रेंस बुला कर राजधानी की स्थिति पर गहरी चिंता व्यक्त करते हुए

यह मांग की। उन्होंने आरोप लगाया कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेताओं ने

भड़कीले बयान देकर लोगों को भड़काया और दंगे का माहौल बनाया और इसकी साजिश

रची। उन्होंने गृह मंत्री अमित शाह और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल पर भी

सवाल उठाया कि वे दोनों पिछले रविवार से क्या कर रहे थे और उन्होंने स्थिति को

नियंत्रित करने के लिए कोई कार्रवाई क्यों नहीं की। कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि श्री शाह

इस घटना की जिम्मेदारी लेकर इस्तीफा दें क्योंकि इस हिंसा के लिए केंद्र सरकार

जिम्मेदार है। उन्होंने यह भी कहा कि यह घटनाएं सोची-समझी साजिश के तहत की गयी

है और भाजपा नेताओं ने डर और नफरत का माहौल बनाया तथा पुलिस हालात पर काबू

नहीं कर पायी।

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने अर्धसैनिक बल का मुद्दा उठाया

श्रीमती गांधी ने यह सवाल उठाया कि अर्धसैनिक सुरक्षा बलों को क्यों नहीं तैनात किया

गया। उन्होंने दिल्ली के हर जिले में नागरिकों की शान्ति समितियां गठित करने की मांग

की और यह भी कहा कि कांग्रेस कार्यसमिति के सदस्य प्रभावित इलाकों में जाकर हिंसा में

पीड़ित परिवारों से मिलेंगे और समर्थन देकर शांति एवं सौहार्द का माहौल बनाएंगे।

संवादादता सम्मेलन में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और वरिष्ठ नेता गुलाम नबी

आजाद के अलावा कांग्रेस के शीर्ष नेता भी मौजूद थे। कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने

इस दौरान बताया कि कांग्रेस का एक शीर्ष प्रतिनिधिमंडल इस संबंध में आज राष्ट्रपति

भवन की ओर मार्च कर एक ज्ञापन राष्ट्रपति को देने वाला था लेकिन राष्ट्रपति से आज

सुबह मुलाकात नहीं हो पाने के कारण मार्च कल निकाला जायेगा

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

2 Comments

Leave a Reply

error: Content is protected !!