fbpx Press "Enter" to skip to content

पुराने कालीदास के आचरण में लौट आये हैं कांग्रेसी

  • अंदरखाने की बगावत से हेमंत सरकार हलाकान

    संवाददाता

रांचीः पुराने कालीदास का जब भी जिक्र होता है तो हमें उस व्यक्ति की याद आ जाती है

तो पेड़ पर उसी डाल को काट रहा था, जिस पर वह बैठा हुआ था। झारखंड कांग्रेस में यह

आचरण काफी समय से होता रहा है। अब फिर से यह विवाद धीरे धीरे सार्वजनिक होता

जा रहा है। वैसे इस पूरे घटनाक्रम में राज्यसभा सांसद धीरज प्रसाद साहू किस मोर्चे पर हैं,

यह स्पष्ट नहीं हो पाया है। यह चर्चा इसलिए है क्योंकि डॉ रामेश्वर ऊरांव का उन्हें प्रवल

समर्थक माना जाता रहा है। दूसरी तरफ इस बार बागी विधायकों को लेकर दिल्ली जाने

वाले वही नेता है। इन दोनों तरफ के खेल में उनकी असली भूमिका शायद कांग्रेस नेतृत्व

को लेकर है। इसी वजह से दिल्ली दरबार में शिकायत करने वाले विधायक तो लौट आये हैं

लेकिन श्री साहू अब तक दिल्ली में ही बने हुए हैं, ऐसी सूचना है।

पुराने कालीदास की तरह होगी कांग्रेस की बात

 आम तौर पर सिर्फ यही चर्चा बाहर आयी है कि पार्टी के अनेक नेता अब एक व्यक्ति एक

पद की मांग पर डॉ रामेश्वर ऊरांव के बदले किसी और को प्रदेश अध्यक्ष बनाना चाहते हैं।

लेकिन अंदरखाने से दो पुराने कांग्रेसियो की घर वापसी की भी चर्चा होने लगी है। खबर है

कि पूर्व राज्यसभा सांसद प्रदीप बलमुचू और पूर्व प्रदेश अध्यक्ष सुखदेव भगत पार्टी में

वापसी कर सकते हैं।

इनमें से सुखदेव भगत भाजपा की टिकट पर चुनाव लड़कर हारे है जबकि प्रदीप बलमुचू

भी आजसू की टिकट पर पराजित हो चुके हैं। दोनों को अपने वर्तमान दल में अब कोई

भविष्य नजर नहीं आ रहा है। दूसरी तरफ नाराज तीनों विधायक इरफान अंसारी,

उमाशंकर अकेला और राजेश कच्छप को दिल्ली शीर्ष नेतृत्व तक ले जाने में भी बड़ी

राजनीति काम कर रही है। पार्टी मुख्यालय में भी इस बात की चर्चा काफी जोरों से है। कई

नेता दबे स्वर पर यह बता रहे हैं कि उपरोक्त तीनों विधायक के प्रदेश नेतृत्व से नाराज

होने की खबर के पीछे कुछ और ही राजनीतिक खेल खेली जा रही है।


 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from झारखंडMore posts in झारखंड »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from रांचीMore posts in रांची »
More from राजनीतिMore posts in राजनीति »

3 Comments

Leave a Reply

error: Content is protected !!