fbpx Press "Enter" to skip to content

बिजली और मोबाइल कंपनियों के खिलाफ कांग्रेस की मोर्चाबंदी जारी, कहा

  • दोनों की लापरवाही पर सरकार को ठोस कदम उठाना चाहिए

रांचीः बिजली और मोबाइल कंपनियों के खिलाफ कांग्रेस का हमला अब भी जारी है।

झारखंड प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता आलोक कुमार दूबे एवं डॉ राजेश गुप्ता छोटू ने

कहा कि बिजली और मोबाइल केबल कंपनियों की लापरवाही से राज्य में फिर दो लोगों की

जान चली जाने पर दुख व्यक्त करते हुए कहा है कि निरंतर हो रही ऐसी घटनाओं पर

अंकुश लगाने के लिए सरकार को ठोस कदम उठाना चाहिए। प्रदेश कांग्रेस कमेटी के

प्रवक्ताओं ने कहा कि सिमडेगा जिले में केबल कंपनियों द्वारा जिस तरह से गड्ढा खोद

दिया गया और उस गड्ढे में गिरने से एक बच्चा अंदर फंस गया, इस दौरान केवल

कंपनियों के कर्मचारियों की लापरवाही की वजह से बच्चे का जिंदा दफन हो जाना

आधुनिक युग की सबसे बड़ी त्रासदी है। उन्होंने कहा कि बच्चे को जिंदा दफन करने वाले

जेसीबी चालक और एक कर्मचारी को गिरफ्तार जरूर कर लिया गया है, लेकिन यह

पर्याप्त नहीं है ।पीड़ित परिवार को 50 लाख का मुआवजा मिले और दोषियों को सजा

दिलाने के लिए स्पीडी ट्रायल के माध्यम से सुनवाई हो।

बिजली और मोबाइल कंपनी की लापरवाही से अधिक जानें गयी

प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता ने कहा कि धनबाद जिले के बाघमारा में भी कल विद्युत

विभाग की लापरवाही की वजह से एक व्यक्ति सुनील कुमार की जान चली गई उन्होंने

कहा कि राज्य में पिछले दो-तीन महीनों के दौरान दर्जनों लोगों की मौत विद्युत विभाग

की लापरवाही की वजह से हो गई है और यदि इस दौरान के सभी आंकड़ों पर गौर किया

जाए तो यह कहा जा सकता है कि लॉकडॉउन के दौरान जितनी मौत कोरोना संक्रमण से

हुई उससे कहीं ज्यादा मौत विद्युत विभाग की लापरवाही की वजह से करंट लगने से हुई

है। पार्टी की ओर से लाकडॉउन के चार महीने के दौरान बिजली विभाग की लापरवाही से

हुई मौत एवं दुर्घटना की चपेट में अपंग हुए लोगों की सूची बहुत जल्द लगभग तीन-चार

दिनों के अंदर जारी की जाएगी। उन्होंने कहा कि विद्युत विभाग और केवल कंपनियों की

लापरवाही की वजह से हो रही मौत के खिलाफ पार्टी चरणबद्ध तरीके से आंदोलन चला रही

है और जब तक सभी पीड़ित परिवारों को मुआवजा नहीं मिल जाता है आंदोलन का

सिलसिला जारी रहेगा।


 

 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from झारखंडMore posts in झारखंड »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from रांचीMore posts in रांची »

Be First to Comment

Leave a Reply