fbpx Press "Enter" to skip to content

शिक्षामंत्री का सराहनीय फैसला, इंटर की पढ़ाई करेंगे

संवाददाता

रांचीः झारखंड के दसवीं पास शिक्षामंत्री जगरनाथ महतो ने इंटरमीडिएट की पढ़ाई के लिए

फिर से नामांकन लेने का निर्णय लिया है। शिक्षामंत्री ने विभाग का कामकाज संभालने के

साथ ही अपने डुमरी विधानसभा क्षेत्र के नवाडीह इंटर कॉलेज में ही नामांकन लेने का

निर्णय लिया है। शिक्षामंत्री जगरनाथ महतो ने सोमवार को पत्रकारों से बातचीत में कहा

कि जनवरी महीने में जब उन्होंने विभाग का पदभार ग्रहण किया, तो कुछ लोगों ने दबी

जुबान में यह टिप्पणी की कि दसवीं पास शिक्षामंत्री राज्य में शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार

के लिए क्या कदम उठा पाएगा, उसी दिन उन्होंने आगे की पढ़ाई करने का निर्णय ले लिया

था। उन्होंने कहा कि पढ़ाई की कोई उम्र नहीं होती, देश के आईएएस-आईपीएस समेत

अन्य अधिकारी भी नौकरी करने के साथ आगे उच्च शिक्षा हासिल करने के लिए पढ़ाई

करते है, ऐसे में शिक्षामंत्री आगे की पढ़ाई के लिए कदम उठाता है, तो किसी को आश्चर्य

करने की कोई बात नहीं है। जगरनाथ महतो ने बताया कि वे इंटरमीडिएट कला संकाय में

अपना नामांकन कराएंगे। उन्होंने बताया कि वर्ष 2005 में जब वे पहली बार डुमरी

विधानसभा क्षेत्र से चुनाव जीत कर आये, तो पैतृक प्रखंड नवाडीह में कोई इंटर कॉलेज

नहीं था, उनके प्रयास से ही नवाडीह प्रखंड में इंटर की पढ़ाई शुरू हो पायी और अब वे उसी

कॉलेज में इंटर की पढ़ाई के लिए नामांकन लेंगे। शिक्षामंत्री ने बताया कि राज्य सरकार

शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार लाने के लिए निरंतर प्रयासरत है, आज ही उन्होंने राज्यभर

में 4416 आदर्श इंटर स्कूल स्थापित करने के लिए विभाग की एक संचिका पर हस्ताक्षर

किया है। यह प्रस्ताव कैबिनेट में जाएगा और राज्य मंत्रिपरिषद से स्वीकृति मिलने के

बाद राज्यभर में आदर्श स्कूल स्थापित कर ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाले बच्चों को

गुणवत्तापूर्ण शिक्षा उपलब्ध करायी जाएगी।


 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from झारखंडMore posts in झारखंड »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from रांचीMore posts in रांची »

One Comment

Leave a Reply