fbpx Press "Enter" to skip to content

सीएम ने की कोविड-19 से बचाव के लिये झारखंडवासियों से सहयोग की अपेक्षा

रांची : सीएम हेमंत सोरेन ने कोरोना से बचाव के लिये समाज के सभी वर्ग के लोगों से जांच में

सहयोग करने की अपील की है। बाहर से राज्य में प्रवेश करने वाले तमाम लोगों को स्वत: जांच

के लिये आगे आने की बात कही है। उन्होंने कहा कि राज्य में दो कोरोना पॉजिटिव पाये जाने के

बाद युद्ध स्तर पर कार्य किया जा रहा है। राज्य में पर्याप्त संख्या में आइसोलेशन सेंटर बनाया

जा रहा है। रिम्स समेत अन्य बड़े हॉस्पिटलों में चिकित्सकीय जांच की सुविधा उपलब्ध करायी

जा रही है। उन्होंने कहा कि कोरोना वॉरियर को संसाधनों की कमी होने नहीं दी जायेगी। इसी

क्रम में नयी दिल्ली से त्रिस्तरीय मास्क, थर्मो स्कैनर, पीपीई व सेनेटाइजर आदि मंगाया गया

है। उन्होंने लॉक डाउन के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग के अनुपालन की बात कही है। उन्होंने कहा

कि गरीबों को भोजन उपलब्ध कराने की दिशा में सरकार ने कई कदम उठाये हैं। सामुदायिक

रसोई के माध्यम से विभिन्न थानों के अलावा सीएम किचन के माध्यम से लोगों का पेट भरा

जा रहा है। आपातकालीन सेवाओं में जुटे लोगों को हर सुविधा देने की कोशिश हो रही है।

उन्होंने स्पष्ट किया कि कोरोना संकट के बीच चिकित्सा व्यवस्था के लिये धन की कमी नहीं

होने दी जायेगी। जिसके लिए राज्य की सरकार हरसंभव प्रयासरत है।

सीएम ने कहा जनता के हित में हरसंभव प्रयासरत है सरकार

सीएम ने कहा है कि दूसरे राज्यों में फंसे लोगों को राहत पहुंचाने के लिए 24 घंटे कॉल सेंटर

काम कर रहा है। नयी दिल्ली स्थित झारखंड भवन में भी कॉल सेंटर स्थापित किया गया है।

इसके अलावा राज्यस्तरीय कोरोना कंट्रोल रूम में 24 घंटे संपर्क किया जा सकता है। बाहर फंसे

लोग नयी दिल्ली के हेल्पलाइन नंबर 088 266 52 716 एवं 011 267 39 000 पर संपर्क कर

सकते हैं। उन्होंने कहा कि सरकारी कर्मचारियों को मार्च माह का वेतन उपलब्ध करा दिया गया

है। पीडीएस दुकानों से राशन कार्डधारियों के अलावा बिना कार्ड वाले लोगों को भी अनाज

उपलब्ध कराया जा रहा है। उन्होंने कहा कि आवश्यकता के अनुसार चिकित्सीय उपकरण

पीपीइ आदि आगे भी मंगाया जायेगा और इलाज में किसी भी तरह की कमी नहीं होगी।

मुख्य सचिव प्रतिदिन कर रहे समीक्षा

शनिवार को मुख्य सचिव सुखेदव सिंह ने कोरोना संकट के बीच सरकारी पदाधिकारियों के

साथ समीक्षा बैठक की। इसमें मुख्य रूप से कोरोना से बचाव के लिये अपनाये जा रहे उपायों को

अधिक कारगर बनाने पर मंथन हुआ। सभी जिलों के डीसी को गरीबों का ध्यान रखने व मरीजों

के इलाज में तत्परता दिखाने का निर्देश दिया गया। नगर निगम क्षेत्र में साफ-सफाई व

सेनेटाइजेंशन को प्रमुखता से क्रियान्वित करने को कहा गया है।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from झारखंडMore posts in झारखंड »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from रांचीMore posts in रांची »
More from लाइफ स्टाइलMore posts in लाइफ स्टाइल »
More from विधि व्यवस्थाMore posts in विधि व्यवस्था »
More from स्वास्थ्यMore posts in स्वास्थ्य »

2 Comments

Leave a Reply