fbpx Press "Enter" to skip to content

सिटी एसपी ने इलाका देख लेने के बाद धमकी मामले की भी जांच की

दीपक नौरंगी

भागलपुरः सिटी एसपी ने लॉक डाउन की स्थिति की समीक्षा करने के साथ साथ ही यहां

के उप महापौर राजेश वर्मा को रंगदारी के लिए दी गयी धमकी की जांच भी तेज की है।

दरअसल उप महापौर श्री वर्मा को यह धमकी उनके पिता हरिओम वर्मा के मोबाइल पर दी

गयी थी। इसमें उप महापौर से पचास लाख रुपये रंगदारी देने की मांग की गयी थी।

वीडियो में जानिये पूरा घटनाक्रम

 

बिहार में कोरोना संक्रमण अचानक तेज होने की वजह से फिर से लॉक डाउन का एलान

किया गया है। इसके तहत फिर से नाहक ही लोगों के अपने अपने घरों से निकलने पर भी

पाबंदी लगायी गयी है। भागलपुर में इसके लिए लगभग सभी इलाकों में पुलिस वालों को

फिर से सतर्क किया गया है। इसी स्थिति का आकलन करने भागलपुर के सिटी एसपी

सुशांत कुमार सरोज ने खुद घूम घूम कर इलाकों का निरीक्षण किया और अपने अधीनस्थ

अधिकारियों को पूरी मुस्तैदी से काम करने का निर्देश भी दिया।

सिटी एसपी ने कहा रंगदारी के मामले का पटाक्षेप हो जाएगा

इसी क्रम में लॉक डाउन की समीक्षा के साथ ही साथ उनसे भागलपुर के उप महापौर से

रंगदारी मांगने के मामले पर भी जानकारी ली गयी। उन्होंने बताया कि महापौर के पिता

के फोन पर यह रंगदारी मांगी गयी थी। इलाकों का दौरा करने के बाद वह श्री वर्मा के घर

पर भी पहुंचे और पूरे मामले की खुद जांच की। उन्होंने कहा कि इस मामले में जिस

मोबाइल से फोन किया गया था, उसे ट्रेस किया जा रहा है। जहां तक मोबाइल पर धमकी

देने की बात है तो उसमें कौन हो सकता है, पुलिस को उसका भी अंदेशा है। इसलिए

उम्मीद है कि बहुत जल्दी ही पुलिस इस मामले को सुलझा लेगी। वह इस मामले की जांच

के क्रम में उप महापौर और उनके परिवार के लोगों से भी मिले और अन्य जानकारियां

हासिल की।


 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from अपराधMore posts in अपराध »
More from कोरोनाMore posts in कोरोना »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from भागलपुरMore posts in भागलपुर »
More from राज काजMore posts in राज काज »
More from वीडियोMore posts in वीडियो »

2 Comments

Leave a Reply

error: Content is protected !!