Press "Enter" to skip to content

जूलियस असांचेज को मार डालना चाहती है सीआईए




लंदनः जूलियस असांचेज को अमेरिकी गुप्तचर एजेंसी सीआईए मार डालना चाहती है। विकिलिक्स के संस्थापक ने अपने प्रयास से ऐसे ऐसे गोपनीय दस्तावेज सार्वजनिक किये थे, जिससे कई सरकारों का पतन हो गया तथा दुनिया के कई अत्यंत शक्तिशाली तानाशाह ही जनता के रोष के शिकार हो गये ।




वर्तमान में वह ब्रिटेन की पुलिस द्वारा गिरफ्तार किये जाने के बाद यहां की जेल में है। उनके वकील ने अदालत को यह बताया है कि अगर अमेरिकी अधिकारी उसे ले जाते हैं तो पूर्व की जानकारी के मुताबिक सीआईए के लोग उनकी हत्या कर देंगे।

दरअसल विकिलिक्स का खुलासा प्रारंभ होने के बाद सबसे पहले अमेरिका ही इससे प्रभावित हुआ है। इसके बाद से जूलियस असांचेज लंदन के इक्वाडोर के दूतावास में छिपे हुए थे।

वहां से ब्रिटेन की पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया था। उनके वकील ने अदालत को इस तथ्य पर गंभीरता से विचार करने का भी आग्रह किया है। वैसे यह पता है कि वर्ष 2017 में भी जूलियस असांचेज की हत्या की साजिश रची गयी थी। किसी वजह से यह साजिश विफल हो गयी थी।

उसके बाद से ब्रिटेन की पुलिस भी ऐसी साजिशों को लेकर बहुत अधिक सतर्क है। उनके वकील मार्क समर्स ने कहा कि अमेरिकी गुप्तचर एजेंसी की साजिशों के बारे में अदालत को भी बहुत कुछ पता है।




जूलियस असांचेज को पहली भी मारने की साजिश हुई थी

इसलिए अमेरिका द्वारा उसके प्रत्यावर्तन की जो अपील की गयी है, उसे स्वीकार नहीं किया जाना चाहिए।

विकिलिक्स खुलासे में अनेक अमेरिकी खुफिया दस्तावेज भी सार्वजनिक हुए हैं, जिनमें अमेरिकी द्वारा की गयी साजिशों तथा उसकी सेना द्वारा किये गये अनैतिक आचरणों का पता चलता है।

वैसे यह अब तक राज ही बना हुआ है कि आखिर जूलियस असांचेज ने ऐसे अत्यंत गोपनीय दस्तावेज कैसे हासिल किये थे।

इन खुलासों की वजह से अमेरिकी की कूटनीति भी प्रभावित हुई है क्योंकि उसकी तरफ मित्रतापूर्ण आचरण करने वाले देशों के खिलाफ भी साजिशों का खुलासा हुआ है।



More from HomeMore posts in Home »
More from अदालतMore posts in अदालत »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from लंदनMore posts in लंदन »

Be First to Comment

Leave a Reply

%d bloggers like this: