fbpx Press "Enter" to skip to content

चौकीदार की बेटी का प्रेमी ही निकला उसका हत्यारा

  • दूसरे से शादी होने के आवेश में कर दी हत्या

बोकारो: चौकीदार ऋषिकेश राय की पुत्री अंजली कुमारी(21वर्ष) का शव गुरुवार की रात

करीब एक बजे संदिग्ध अवस्था में घर के महज दो सौ मीटर दूर एक पलाश के पेड़ से

लटका पाया गया था। जिसको लेकर मृतक के पिता ने पिंड्राजोरा थाना में प्राथमिकी दर्ज

कराया गया था। इस मामले में जिले के एसपी चंदन कुमार झा ने अंजली हत्याकांड का

उदभेदन करते हुए कहा कि अंजली की हत्या उसके प्रेमी अमित कुमार महतो ने ही रस्सी

से गला घोटकर कर दी थी। उन्होंने बताया कि अंजली का प्रेमी अमित कुमार

महतो(23वर्ष) पिता बासुदेव महतो गांव बारपोखर, थाना पिंड्राजोरा से पुछताछ के क्रम में

स्वीकार किया कि करीब दो वर्ष पूर्व से दोनों का प्रेम प्रसंग चल रहा था। लेकिन अंजली की

शादी उसके पिता ने किसी दूसरे लड़के से तय कर दी। जिस बात से अमित काफी नाराज

हो गया था। वह अंजली पर इस शादी का विरोध करने का लगातार दबाव बना रहा था, पर

अंजली अपने परिवार वालों का विरोध नहीं कर पा रही थी। इसलिए अमित ने अंजली को

भरोसा में लेकर 18 जून की रात्रि में फोन कर बुलाया। उसके बाद अपने पिता के आॅटों से

ले गए एक रस्सी से गाला घोट डाला। उसी रस्सी के सहारे पेड़ से लटका दिया।

कॉलेज से ही हो गया था दोनो में प्रेम

अमित कुमार महतो और अंजली के बीच चास कॉलेज आने जाने के क्रम में प्रेम हो गया

था। अमित इंटर विज्ञान में पढ़ता था, जबकि अंजली इंटर कला में पढ़ती थी। अमित ने

पुलिस को बताया कि अंजली अपने घर वालों को उन दोनों के प्यार के बारें में बताने को

राजी नहीं थी। जिसे लेकर वह काफी परेशान था। उसकी शादी भी आने वाले जुलाई माह में

होने वाली थी। इसलिए अब उसे लगने लगा था कि अंजली अगर उसकी नहीं हुई तो वह

दूसरे की भी नहीं होगी। इसलिए उसने अंजली को मार डाला।

चौकीदार पिता ने बड़ी बेटी के देवर पर जताया था शक

 

अंजली के पिता ऋषिकेश राय ने हत्या को लेकर अपनी बड़ी बेटी के देवर रितेश राय पर

शक जताया था, लेकिन पिंड्राजोरा पुलिस को अनुसंधान के क्रम में कुछ और ही बात

सामने आई। उसके बाद पुलिस ने अंजली के प्रेमी अमित को बारपोखर गांव से पूछताछ के

लिए थाने लेकर आई। पुलिस द्वारा सख्ती से पूछताछ करने पर सारा मामला सामने आ

गया। पकड़े गए आरोपी युवक अमित को पुलिस ने जेल भेज दिया है। इस हत्याकांड के

उदभेदन में पिंड्राजोरा थाना प्रभारी सुदामा चैधरी, नरेंद्र कुमार यादव, श्रवण कुमार, प्रकाश

कुमार, अजय प्रसाद, निवास शर्मा, जितेन्द्र कुमार आदि शामिल थे। वहीं मौके पर चास

एसडीपीओ भगवान दास, बेरमो एएसपी अंजनी अंजन आदि मौजूद रहे।


 

 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Be First to Comment

Leave a Reply

error: Content is protected !!