fbpx Press "Enter" to skip to content

चीन की दोबारा चालबाजी मैकमोहन लाइन के दक्षिण में सेना तैनात

  • भारत गोला-बारूद पहुंचाने के लिए बनाई बड़ी योजना

  • पीएलए की एक बटालियन हुई है तैनात

  • भारतीय सेना इलाके में पहले से सतर्क

  • रसद ढुलाई के लिए विशेष इंतजाम भी

भूपेन गोस्वामी

गुवाहाटी : चीन की दोबारा चालबाजी को भारत अब अच्छी तरह समझ रहा है। इसी वजह

से उसकी तैयारियों और कार्रवाइयो के पहले ही भारत चीन की सीमा पर उससे पहले ही

तैयारियां की जा रही है। इस बार चीन की दोबारा चालबाजी अरुणाचल प्रदेश के मैकमोहन

रेखा के दक्षिण क्षेत्रों के पास है। यहां पीपुल्स लिबरेशन आर्मी के सैनिकों की एक

बटालियन को तैनात किया गया है। वास्तविक नियंत्रण रेखा पर लद्दाख सेक्टर से बाहर

यह उन स्थानों में से एक है। असम के तेजपुर स्थित भारतीय सेना के मुख्यालय गजराज

कॉर्प्स के एक वरिष्ठ अधिकारी ने आज कहा कि एनईएफए में शामिल मैकमोहन लाइन

के दक्षिण में चीन के दावे, पारंपरिक सीमाओं पर जहां पिछले कुछ दिनों में में चीनी

सैनिकों की आवाजाही देखी गई है।

चीन की दोबारा चालबाजी से पहले ही तैयार है भारतीय सेना

अरुणाचल प्रदेश के जयरामपुर में दोनों तरफ से सेना की तैनाती की प्रक्रिया पर एक

वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि यह चीनी सेना यह संदेश दे रही है कि उसकी तरफ से

चीनी सैनिक पूरी तरह तैयार हैं। चीन की दोबारा चालबाजी एलएसी पर अपनी तरफ अन्य

जगहों पर भी अपनी मौजूदगी बढ़ाने की रही है। गजराज कॉर्प्स के एक वरिष्ठ अधिकारी

ने आज कहा कि भारतीय सेना अरुणाचल प्रदेश के श्रम विभाग के साथ समन्वय से राज्य

के तीन जिलों के लिए पोर्टर की एक कंपनी का गठन करेगी। यह जानकारी सेना के एक

वरिष्ठ अधिकारी ने शुक्रवार को दी है। यह पोर्टर कंपनी पश्चिम सियांग, सियांग और

शाई-योमि जिलों में कार्यरत सेना के जवानों की जरूरतें पूरी करेंगे। पोर्टर परिचालन

तैयारियों और दक्षता के लिए सेना के अभिन्न अंग हैं।अधिकारी ने कहा कि तीन जिलों के

लिए अस्थायी रूप से 370 पोर्टर को नियोजित करने के लिए अगस्त में एनएबी, काइंग,

आलो, मेन्चुका, तडाडेगा और टैटो में भर्ती रैली आयोजित की जाएगी। उसने कहा कहा कि

रिक्तियों को स्थानीय लोगों के लिए आरक्षित किया गया है। सेना सड़कों और सेना की

चौकियों से बर्फ साफ करने के अलावा दुर्गम इलाकों में सैनिकों के लिए राशन और गोला-

बारूद पहुंचाने के लिए समय-समय पर पोर्टर की सेवाएं लेती है।


 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from HomeMore posts in Home »
More from अरुणाचल प्रदेशMore posts in अरुणाचल प्रदेश »
More from कूटनीतिMore posts in कूटनीति »
More from चीनMore posts in चीन »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from देशMore posts in देश »
More from रक्षाMore posts in रक्षा »

One Comment

  1. […] चीन की दोबारा चालबाजी मैकमोहन लाइन के … भारत गोला-बारूद पहुंचाने के लिए बनाई बड़ी योजना पीएलए की एक बटालियन हुई है तैनात भारतीय सेना … […]

Leave a Reply

error: Content is protected !!