fbpx Press "Enter" to skip to content

चिली के राष्ट्रपति ने सेंटियागो सहित कई क्षेत्रों में की आपातकाल की घोषणा

सेंटियागोः चिली के राष्ट्रपति सेबेस्टियन पिनेरा ने सार्वजनिक परिवहन के किराये में हुई बढ़ोतरी के खिलाफ

प्रदर्शनों के दौरान हुई हिंसा के मद्देनजर शनिवार को राजधानी सेंटियागो और देश के कई अन्य हिस्सों में

आपातकाल की घोषणा कर दी।

श्री पिनेरा ने कहा, ‘‘पिछले कुछ दिनों में झड़प तथा सबवे और सम्पत्तियों के साथ-साथ नागरिकों की सुरक्षा पर

हमले की घटनाएं घटित हुई हैं।

उन लोगों ने आंदोलन को बाधित किया और सार्वजनिक कानून का लगातार उल्लंघन किया है।

चिली के संविधान द्वारा प्राप्त शक्तियों के मुताबिक कानून-व्यवस्था को बनाये रखना मेरी जिम्मेदारी है।

मैंने सेंटियागो तथा चाकबुकों प्रांतों के साथ-साथ पुएंटे अल्रो तथा बेर्नार्डो में आपातकाल की घोषणा की है।’’

चिली के राष्ट्रपति ने कहा कि मैं परिवहन किराये पर बातचीत करने के लिए एक कार्यकारी समूह का गठन करूंगा।

उल्लेखनीय है कि चिल्ली में सार्वजनिक परिवहन के किराये में बढ़ोतरी के खिलाफ गत सप्ताह से लोग प्रदर्शन

कर रहे हैं। शुक्रवार को प्रदर्शन हिंसक हो गया और प्रदर्शनकारियों ने ‘सबवे स्टेशनों’ के साथ परिवहन दफ्तरों

में आग लगा दी। इस घटना के बाद सेंटियागो ‘सबवे’ को सप्ताह के अंतिम दिन बंद रखने की घोषणा कर दी।

प्रदर्शनकारियों की कानून प्रवर्तन निदेशालय के अधिकारियों के साथ झड़पें भी हुईं।

चिली के राष्ट्रपति का फैसला देश की स्थिति के बाद

चिली में लगातार स्थिति बिगड़ते चले जाने की वजह से इस किस्म की निषेधाज्ञा लागू कर दी गयी है।

समझा जाता है कि लोगों के आंदोलन से न सिर्फ जनजीवन बाधित हो रहा है बल्कि लगातार सरकारी संपत्तियों

को भी नुकसान पहुंचाया जा रहा है। इस किस्म की अप्रिय परिस्थितियों से बचने के लिए ही

चिली के राष्ट्रपति ने यह निषेधाज्ञा लागू कर दी है।

इस बारे में उन्होंने समस्याओं के निराकरण के लिए आवश्यक उपाय किये जाने की भी जानकारी दी है।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from विधि व्यवस्थाMore posts in विधि व्यवस्था »

Be First to Comment

Leave a Reply

error: Content is protected !!