fbpx Press "Enter" to skip to content

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने लगाया भाजपा पर लगाया बड़ा आरोप

  • गाय के नाम पर वोट मांगने वाले करा रहे गौ तस्करी

  • सरकार नहीं सिंडिकेट चलाती रही सोनोवाल सरकार

  • पांच साल से डमी सीएम के कारण पिसता रहा असम

  • बांग्लादेश में भेजे जा रहे हैं मवेशी संरक्षक यह सरकार

उत्तर पूर्व संवाददाता

गुवाहाटी : छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने असम के मुख्यमंत्री पर आज गुवाहाटी

में आयोजित एक संवाददाता सम्मेलन में बड़ा आरोप लगाया। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री

भूपेश बघेल ने कहा कि असम में सरकार नहीं सिंडिकेट चलाती रही सोनोवाल सरकार

,गाय के नाम पर वोट मांगने वाली भाजपा सरकार करवा रही है गो-तस्करी। पांच साल

डमी सीएम सोनोवाल के कारण पिसता रहा असम। पूरे देश में भाजपा गाय के नाम पर

वोट मांगती है। वह गौ-रक्षा के नाम पर सांप्रदायिक हिंसा भी फैलाती रही है। लेकिन सच

यह है कि असम में भाजपा की सरकार की छत्रछाया में गौ-तस्करी का सिंडिकेट चल रहा

है। यह सिंडिकेट इतना फल फूल गया है कि सीमावर्ती बांग्लादेश में गौवंश की अबाध

सप्लाई हो रही है और बांग्लादेश से पूरी दुनिया में गौ-मांस का निर्यात कई गुना बढ़ गया

है। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि 2016 में असम में भाजपा की सरकार बनी

और वर्ष 2018 में बांग्लादेश का मांस का निर्यात 211 प्रतिशत तक बढ़ गया था।वैसे

सर्बांनंद सोनोवाल की सरकार अक्सर गौ-तस्करी रोकने के नाम पर अक्सर गायें जब्त

करने का दावा करती है। सरकार को यह बताना चाहिए कि अगर गायें जब्त हुई हैं तो उन्हें

प्रदेश के किन किन गौशालों में रखा गया है। असम प्रदेश कांग्रेस के मीडिया सचिव बबीता

शर्मा लोकसभा के सांसद अब्दुल खालेक की उपस्थिति में छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री ने

कहा है कि मैंने सुना है कि भाजपा सरकार ने गौ-तस्करी को लगातार चलते रहने देने के

लिए इस पर निगरानी का काम पुलिस की जगह पशु-चिकित्सा विभाग को दे रखा है। हम

सब समझते हैं कि पशु-चिकित्सा विभाग किस तरह इसकी निगरानी रख रहा होगा।

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री ने कहा मेनका गांधी ने भी मुद्दा उठाया

अब तो पूर्व केंद्रीय मंत्री और भाजपा सांसद मेनका गांधी ने भी यह मुद्दा उठा दिया है।

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि सिर्फ़ गौ-तस्करी का नहीं है भाजपा की सरकार

कोयले की दलाली और दूसरे सिंडिकेट का भी चल रहा है। अवैध कोयला बेचने में

सोनोवाल सरकार ने सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं।उन्होंने और कहां कि लोग बता रहे हैं कि हर

दिन कम से कम 500 ट्रक कोयले का हेरफेर हो रहा है ।बघेल ने कहा कि 2016 के अपने

विज़न डॉक्यूमेंट में बीजेपी ने असम की जनता से वादा किया था कि वो हर वर्ष 4 लाख 60

हजार नौजवानों को रोजगार देगी।मेरा सर्वानंद सोनोवाल से सवाल है कि जनता के बीच

आ कर बताएं कि उनके कार्यकाल में आसाम के कितने नौजवानों को रोजगार मिला,

कितने बेरोजगारों को काम मिला ? मेरी जानकारी में 2016 से 2018 के बीच आसाम में 16

लाख 42 हजार से ज़्यादा रजिस्टर्ड बेरोजगार थे और यह संख्या 2020 में बढ़ कर 20 लाख

से ज़्यादा हो गई ! मतलब रोजगार देना तो दूर महज दो वर्षों में बीजेपी की सरकार ने

करीब साढ़े 4 लाख असमियों से रोजगार ही छीन लिया। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री बघेल ने

कहा कि संकटपूर्ण दौर में भी अपनी जनता की चिंता कैसे की जाती है ये हमने छत्तीसगढ़

में कर के दिखाया है।

छत्तीसगढ़ के आंकड़ों से मिल लें कि असम क्यों पिछड़ा है

आप वहां भी बीजेपी की सरकार के समय के आंकड़े उठा कर देख सकते हैं और देख सकते

हैं कि कांग्रेस की रीति – नीति से चलने वाली हमारी सरकार के आने के बाद कोरोना काल

में भी बेरोजगारी की दर में कितनी गिरावट आई। बघेल ने कहा कि फ़ेल हो गया डबल

इंजन,असम की भाजपा सरकार और उसका दिल्ली में बैठा दूसरा इंजन केवल जनता को

धर्म, जाति और संप्रदाय के आधार में लड़वाने और जनता की भावनाओं से खिलवाड़ करने

में लगा रहा। मैं असम की जनता को बताना चाहता हूं कि हमारे नेता राहुल गांधी ने चाय

बागान मजदूरों से भरी सभा में को वादा किया है उसे कांग्रेस की सरकार उसी तरह पूरा

करेगी जैसे राहुल जी के निर्देश पर हमने छत्तीसगढ़ में दो घंटे के भीतर अपनी पहली

कैबिनेट में किसानों का कर्ज माफ किया था, उनका धान एमएसपी पर खरीदने का वादा

तो निभाया ही साथ ही राजीव गांधी किसान न्याय योजना के जरिए किसान को प्रति

एकड़ दस हजार रूपए भी दिए जा रहे हैं।यह डमी मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल की सरकार

की बिदाई की बेला है।असम की जनता ने ठान लिया है कि उनके आपसी सदभाव, आपसी

भाईचारे और इस प्रदेश की शांति के दुश्मन इस प्रदेश के नौजवानों के हितों के दुश्मन

लोगों को अब घर बैठा देना है।ये असमिया अस्मिता पर लगे भाजपाई ग्रहण से मुक्ति का

चुनाव है।असम की जनता सब समझ चुकी है। वह पिछले पांच साल से पछता रही है कि

उसने भाजपा को वोट दिया।कांग्रेस अपने गठबंधन के साथियों के साथ बहुमत की सरकार

बनाने जा रही है।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from HomeMore posts in Home »
More from असमMore posts in असम »
More from चुनावMore posts in चुनाव »
More from छत्तीसगढ़More posts in छत्तीसगढ़ »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from बयानMore posts in बयान »
More from राजनीतिMore posts in राजनीति »

Be First to Comment

... ... ...
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: