Press "Enter" to skip to content

आईपीएल में चोटी का स्थान पाने के लिए भिड़ेंगे चेन्नई और दिल्ली







दुबई: आईपीएल तालिका में पहले स्थान पर चल रही चेन्नई सुपरंिकग्स और दूसरे स्थान पर

मौजूद दिल्ली कैपिटल्स के बीच सोमवार को यहां होने वाले मुकाबले में दोनों टीमों की नजरें शीर्ष

स्थान पर पहुंचने पर लगी होंगी। चेन्नई और दिल्ली दोनों के बीच यह मुकाबला इस आईपीएल का

50वां मैच होगा और इसके साथ ही टूर्नामेंट में मैचों का अर्धशतक भी पूरा हो जाएगा।

दोनों टीमों के 12 मैचों में नौ जीत और तीन हार के बाद 18 -18 अंक हैं लेकिन चेन्नई बेहतर रन

औसत के आधार पर पहले और दिल्ली दूसरे स्थान पर है।

आईपीएल पहले चरण में वानखेड़े स्टेडियम में मुकाबला हुआ था

चेन्नई का नेट रन रेट +0.829 है जबकि दिल्ली का नेट रन रेट +0.551 है। शनिवार को दिल्ली ने

अपने मुकाबले में मुंबई इंडियंस को चार विकेट से पराजित किया था जबकि चेन्नई को बड़े स्कोर

वाले मैच में राजस्थान रॉयल्स से सात विकेट से हार का सामना करना पड़ा था।

दोनों टीमों के बीच पहले चरण में मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में मुकाबला हुआ था जिसमें दिल्ली ने

सात विकेट से जीत हासिल की थी। चेन्नई ने 20 ओवर में सात विकेट पर 188 रन बनाये थे जबकि

दिल्ली ने सलामी बल्लेबाज शिखर धवन के 85 रन की बदौलत 18.4 ओवर में तीन विकेट पर 190

रन बनाकर एकतरफा जीत हासिल की थी।

शानदार प्रदर्शन कर प्लेआॅफ में जगह पक्की की है

दोनों टीमों ने यूएई चरण में अब तक शानदार प्रदर्शन कर प्लेआॅफ में जगह पक्की की है। हालांकि

चेन्नई को कल राजस्थान ने अपनी आक्रामक बल्लेबाजी से शिकस्त देकर कुछ चौंका दिया था।

चेन्नई के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को उम्मीद नहीं थी कि राजस्थान उन पर ऐसा हमला करेगा।

लेकिन इस हार के बाद धोनी सतर्क हो गए होंगे कि किसी तरह का प्रयोग खतरे से खाली नहीं होगा।

हालांकि चेन्नई के लिए इस हार में भी संतोष की बात यही रही कि उसके सलामी बल्लेबाज ऋतुराज

गायकवाड ने इस मुकाबले में 60 गेंदों में शानदार शतक (101) बनाया और नाबाद पवेलियन लौटे।

सबसे पहले 20 अंक हासिल करने पर लगी होंगी

दूसरी तरह दिल्ली ने शानदार गेंदबाजी करते हुए पांच बार के चैंपियन मुंबई को 129 पर रोका और

19.1 ओवर में छह विकेट पर 132 रन बनाकर मैच जीत लिया। दिल्ली के लिए शुरुआत में जल्दी

विकेट गंवाना कुछ ंिचता की बात होगी। दोनों टीमें पिछले परिणाम को पीछे छोड़कर नए इरादे

के साथ मैदान में उतरेंगी और उनकी नजरें सबसे पहले 20 अंक हासिल करने पर लगी होंगी।

इस मुकाबले में जो टीम जीतेगी उसका पहले स्थान पर रहना सुनिश्चित हो जाएगा क्योंकि रॉयल

चैलेंजर्स बेंगलुरु के पास तीन मैच बचे हैं और विराट कोहली की टीम भी तीनों मैच जीतकर 20 अंकों

तक पहुंच सकती है। इस स्थिति को देखते हुए चेन्नई और दिल्ली कतई नहीं चाहेंगी कि

उन्हें तीसरे स्थान पर जाना पड़े जहां फाइनल खेलने वाली टीम के लिए दो के बजाये

सिर्फ एक मौका ही रह जाता है।



More from क्रिकेटMore posts in क्रिकेट »
More from खेलMore posts in खेल »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »

One Comment

Leave a Reply

%d bloggers like this: