fbpx Press "Enter" to skip to content

छठ पूजा सार्वजनिक जलागारों में करने की अनुमति से रौनक

  • सज गये हैं छठ घाट

  • बजने लगे हैं छठ के गीत भी

  • बड़ा तालाब में विद्युत सज्जा पूरा

  • संगठनों द्वारा लकड़ी का भी वितरण

  • परिवार के लोगों ने मुआयना भी किया

राष्ट्रीय खबर

रांचीः छठ पूजा सार्वजनिक जलागारों में करने की अनुमति मिलने के बाद लोगों का

उत्साह दोगुना हो गया है। इसके तहत रांची के बड़ा तालाब सहित सभी तालाबों में इसकी

तैयारियों की झलक देखने को मिली। आज छठ पूजा के सामानों की खरीददारी के दौरान

कई स्थानों पर अस्थायी बाजार भी लग गये थे। यह परंपरा काफी समय से चली आ रही

है। इस बार भी इन स्थानों पर स्थानीय विक्रता अपने सामान लेकर क्रेताओं के लिए

उपलब्ध रहे। इस दौरान अधिक भीड़ होने की वजह से कई बार जाम की स्थिति तो बनी

लेकिन उससे कोई खास समस्या नहीं हुई। वहां मौजूद यातायात कर्मियों ने प्रयास कर

शीघ्र ही इस जाम की स्थिति को खत्म करा दिया। दूसरी तरफ कई सामाजिक और

धार्मिक संगठनों द्वारा छठ व्रतियों केलिए सामान और लकड़ी के वितरण का कार्यक्रम भी

शहर के कई इलाकों में चलाया गया।

छठ पूजा सार्वजनिक जलागारों के लिए आंशिक छूट

गाइड लाइन में आंशिक छूट दिये जाने के बाद छठ घाटों की सफाई में सरकारी स्तर पर

काम होने के साथ साथ स्थानीय संगठनों के लोग भी दिनभर इसमें जुड़े रहे। शाम के

वक्त बड़ा तालाब की सफाई के साथ साथ अन्य साज सज्जा का काम भाजपा नेता राजीव

रंजन मिश्रा उर्फ चुन्नू की देखरेख में संपन्न हुआ। वहां की गय सजावट को भी अंतिम रुप

प्रदान किय गया है। छठ के लिए आने वालों को आने जाने में कोई परेशानी नहीं हो, इसके

लिए दूर तक सड़कों पर रोशनी के प्रबंध का काम भी युद्ध स्तर पर चल रहा है, जिसे आज

रात ही पूरा कर लिये जाने की उम्मीद है।

इस दौरान जिनके घरों में छठ का आयोजन हो रहा है, उनके घरों के पुरुष सदस्य भी

जलागारों की स्थिति का मुआयना करने पहुंचे। इसी तरह कई परिवारों के लोग भी स्वर्ण

रेखा नदी के पास अपने अपने लिए बेहतर और साफ स्थान तलाशते देखे गये। कुछ लोगों

ने निजी परिश्रम से अपने परिवार के लोगों के लिए छठ पूजा का स्थान भी तैयार किया है।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from HomeMore posts in Home »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from धर्मMore posts in धर्म »
More from रांचीMore posts in रांची »
More from लाइफ स्टाइलMore posts in लाइफ स्टाइल »

Be First to Comment

Leave a Reply

... ... ...
%d bloggers like this: