fbpx Press "Enter" to skip to content

मंत्री के बयान से कांग्रेस पार्टी का चरित्र उजागरः मिस्फीका हसन

रांचीः  मंत्री के बयान पर झारखंड प्रदेश भाजपा ने कड़ी प्रतिक्रिया दी है। छत्तीसगढ़ के

बलरामपुर में एक नाबालिग के साथ हुए दुष्कर्म की घटना पर छत्तीसगढ़ शासन के पार्टी

के प्रदेश प्रवक्ता मिस्फीका हसन ने कहा कि हाथरस की घटना पर कांग्रेस पार्टी

राजनीतिक रोटी सेंकने की कोशिश कर रही परंतु इन्हें अपने शाषित राज्यों की घटनाओं

पर शर्म नही आ रही। सुश्री हसन ने कहा कि अपने प्रदेश की घटना छत्तीसगढ़ के श्रममंत्री

श्री शिवकुमार डहरिया को छोटी घटना लगती है। मंत्री के बयान से कुछ ऐसा ही पता

चलता है जबकि भाजपा शासित राज्यो की घटनाएं विकराल लगती है। उन्होंने कहा कि

ऐसे बयानों से कांग्रेस पार्टी का वास्तविक चरित्र उजागर होता है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस

शासित छत्तीसगढ़,राजस्थान ,झारखंड सभी राज्यों में महिला प्रताड़ना,दुष्कर्म की अनेक

घटनाएं रोज घट रही है। झारखंड सरकार पर तीखा प्रहार करते हुए सुश्री मिस्फीका ने कहा

कि झारखंड की बहन,बेटियां पूरी तरह असुरक्षित महसूस कर रही है। मुख्यमंत्री का गृह

क्षेत्र बरहेट हो या फिर राज्य की राजधानी रांची सर्वत्र भय का वातावरण है। माता पिता

बेटियों को बाहर भेजने से डर रहे हैं। उन्होंने कहा कि हेमंत सरकार में धार्मिक आश्रम हो

या पुलिस गेस्ट हाउस कही भी बेटियां सुरक्षित नही हैं। कहा कि 9 महीने की सरकार में

1200 बलात्कार की घटनाएं पुलिस की रिकॉर्ड में दर्ज हुए है,इसी से हालात का अंदाजा

लगाया जा सकता है। सुश्री हसन ने कहा कि सरकारी तंत्र की विफलता का आलम यह है

कि बलात्कार की घटनाओं में महामहिम राज्यपाल को हस्तक्षेप की नौबत आ गई।

मंत्री के बयान पर  कहा कि पहले कांग्रेस अपनी गिरेबान में झांके

सुश्री हसन ने कहा कि कांग्रेस पार्टी अपने गिरेबान में झांके। भाजपा कही भी घटने वाली

दुष्कर्म की घटना की कड़ी निंदा करती है। योगी सरकार ने तो सीबीआई जांच की अनुशंसा

कर दी परंतु झारखंड में कितने दरिंदे पकड़े गए,कितने को सजा हुई इस सवाल का जवाब

तो कांग्रेस  को देना ही चाहिए। 


 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from बयानMore posts in बयान »
More from रांचीMore posts in रांची »
More from राजनीतिMore posts in राजनीति »

One Comment

Leave a Reply

error: Content is protected !!